लांजूड में भिषन जल किल्लत

खामगांव.तहसील के लांजूड गांव में जल किल्लत होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. पानी के लिये काम छोड़कर रात-रात जागना पड़ रहा है. इस गांव में हर समय जल किल्लत रहती है. इस वर्ष

खामगांव. तहसील के लांजूड गांव में जल किल्लत होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. पानी के लिये काम छोड़कर रात-रात जागना पड़ रहा है. इस गांव में हर समय जल किल्लत रहती है. इस वर्ष बारिश कम होने से समस्या और गंभीर हो गई है.

रात में जोहते हैं टैंकर की वाट
गांव में टैंकर व्दारा पानी वितरित किया जा रहा है. किंतु नियोजन का अभाव होने के कारण लोगों को बूंद-बूंद पानी के लिये तरसना पड़ रहा है. रात भर जागते हुये पानी के टैंकर की राह देखना पड़ती है. कभी रात २.3० बजे तो कभी अलसुबह ५.3० बजे पानी का टैंकर गांव में आता है. आते ही लोगों की भागदौड़ शुरू हो जाती है.

गांव में २3 हैंडपम्प
इस गांव में २3 हैंडपम्प है. इसके अलावा जलआपूर्ति की कोई भी योजना कियान्वित नहीं होने के कारण ग्रामीणों को टैंकर पर निर्भर रहना पड़ता है. पिछले कुछ सालों से बारिश कम होने के कारण जलस्तर कम हुआ है. इसलिये यहां के लोगों को सालभर जल किल्लत का सामना करना पड़ता है. इस गांव की जल किल्लत की समस्या दूर करने के लिये ठोस उपाय योजना करना जरुरी है.

फिलहाल लोडशेडिंग शुरू होने से बिजली आपूर्ति का समय देखकर खेत के कुएं से टैंकर में पानी भरा जाता है. पानी वितरित करने के पूर्व ग्रामीणों को सूचना दी जाती है. गांव में जल किल्लत की समस्या हल करने के लिये हर तरह से प्रयास जारी है.

– कल्पना काले, सरपंच लांजूड.