राकां नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बुलडाणा. सूखाग्रस्त स्थिति का ज़ायज़ा लेने के लिए आए राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को ज्ञापन देने के लिए जाने वाले राष्ट्रवादी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को शहर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. सभी

बुलडाणा. सूखाग्रस्त स्थिति का ज़ायज़ा लेने के लिए आए राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को ज्ञापन देने के लिए जाने वाले राष्ट्रवादी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को शहर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. सभी कार्यकर्ताओं को बाद में शहर पुलिस थाने में रखा गया और बाद में उन्हें छोड़ दिया गया.

बुलडाणा जिले में सूखे की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सोमवार को जिले के दौरे पर हैं. राष्ट्रवादी की ओर से जिले को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग का ज्ञापन देने का फैसला लिया गया. इसके लिए सोमवार की सुबह 10 बजे राष्ट्रवादी कांग्रेस के तालुकाध्यक्ष डी. एस. लहाने के नेतृत्व में राष्ट्रवादी कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता इकठ्ठा हुए. लेकिन शहर पुलिस ने स•भी कार्यकर्ताओं को आगे जाने से रोका. इस समय कार्यकर्ताओं की पुलिस से कुछ कहा-सुनी भी हुई. बाद में पुलिस ने सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करते उन्हें पुलिस थाने में बिठाए रखा. पुलिस की इस कार्रवाई पर राष्ट्रवादी के कार्यकर्ताओं ने सरकार और मुख्यमंत्री के खिलाफ़ जमकर नारेबाजी की. इसके साथ ही मुख्यमंत्री जिले को जल्द से जल्द सूखाग्रस्त घोषित करें, ऐसी मांग की गई.

इस आंदोलन में डी. एस. लहाने समेत एड. सुमित सरदार, अनिता शेलके, नाझीमा खान, सत्तार कुरेशी, अनिल बावस्कर, अनिल रिंढे, मंगेश बिडवे, बबलू कुरेशी, मेहर अली, सुरेंद्र जवरे, संतोष पाटिल, गणेश बाहेकर समेत बड़ी संख्या में राष्ट्रवादी कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल हुए.