दो बच्चों समेत मां ने की कुएं में कूदकर आत्महत्या

मेहकर. पारिवारिक विवाद के चलते दो बच्चों समेत मां ने खेत में स्थित कुएं में कूदकर आत्महत्या की. यह घटना मेहकर तहसील के ग्राम बाभूलखेड में सोमवार को घटी. प्राप्त जानकारी के अनुसार मेहकर तहसील के

मेहकर. पारिवारिक विवाद के चलते दो बच्चों समेत मां ने खेत में स्थित कुएं में कूदकर आत्महत्या की. यह घटना मेहकर तहसील के ग्राम बाभूलखेड में सोमवार को घटी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मेहकर तहसील के बाभूलखेड में अंकुश गायकवाड मेहकर निवासी भाऊराव वानखेडे के खेत में काम करता था. वह अपने परिवार के साथ खेत में ही रहता था. कुछ माह पहले अंकुश की सास का निधन होने के चलते उसके ससुर शिवाजी बकाल (उम्र 57) गायकवाड परिवार के साथ ही रह रहे थे. इसी मुद्दे पर बीते कुछ दिनों से अंकुश का उसकी पत्नी मनीषा के साथ विवाद चल रहा था. कई बार यह विवाद गंभीर रूप धारण कर लेता था. ऐसे में सोमवार को अंकुश और मनीषा में फिर जमकर विवाद हुआ. इस विवाद से गुस्साई मनीषा गायकवाड ने अपने दोनों बेटे समर्थ तथा युवराज को राम पातूरकर के खेत में लेकर गई और वहां उसने पहले अपने दोनों बच्चों को कुएं में फेंका और बाद में खुद भी कुएं में छलांग लगाई.

गांव के लोगों को घटना की जानकारी मिलते ही उन्होंने कुएं से तीनों को बचाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक काफ़ी देर हो चुकी थी. कुएं से शवों को निकालने के लिए मेहकर के कबीर मित्रमंडल के सदस्यों ने कठिन प्रयास किए. जानकारी मिलते ही मेहकर पुलिस स्टेशन के थानेदार आत्माराम प्रधान, तहसीलदार संतोष काकडे और पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे और उन्होंने शवों का पंचनामा कर उन्हें आगे की जांच के लिए मेहकर अस्पताल भेजा.