तालाब सूखने से जलसंकट

मलकापुर. तहसील में सरकार ने जगह-जगह पर तालाब का निर्माण किया है. किंतु विगत दो तीन वर्ष से बारिश कम होने के कारण तालाब में पानी का कतरा भी नही है. साथ ही भूजल स्तर घटने से पानी मिलना मुश्किल हुआ है.

मलकापुर. तहसील में सरकार ने जगह-जगह पर तालाब का निर्माण किया है. किंतु विगत दो तीन वर्ष से बारिश कम होने के कारण तालाब में पानी का कतरा भी नही है. साथ ही भूजल स्तर घटने से पानी मिलना मुश्किल हुआ है. जिससे मवेशियों के लिए पानी की चिंता सता रही है. तहसील में पाटबंधारे व कृषि विभाग की ओर से पाझर तालाब का निर्माण किया गया. साथ ही नलगंगा व विश्वगंगा नदी में बांध का निर्माण कार्य किया गया.

जिससे खामखेड, रणथम चिखली, तिघ्रा, देवधाबा समेत कई गांवों के तालाबों में शुरुआत में लबालब पानी था. किंतु बारिश कम होने के कारण आज यह तालाब सूखे पड़े है. नदी में बने बांध का खोलीकरण किया गया.किंतु बारिश कम होने से उस में भी पानी नहीं रहा. तहसील में हतनूर प्रकल्प के बैकवाटर पर ४२ तो नलगंगा प्रकल्प से १० गांवों में जलापूर्ति किए जाने से पीने की समस्या हल हुई है. किंâतु आने वाले दिनों में जल समस्या की संभावना है. जिसके चलते पानी की बचत करना जरूरी है.