Water supply from tankers in 28 villages and 20 wadas
File Photo

खामगांव. बुलढाना जिले में अकाल की स्थिति होने के बावजूद भी सरकार व प्रशासन की अनदेखी हो रही है. जिससे खामगांव निर्वाचन क्षेत्र में लोगों को जल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. साथ ही पशु पालक के

खामगांव. बुलढाना जिले में अकाल की स्थिति होने के बावजूद भी सरकार व प्रशासन की अनदेखी हो रही है. जिससे खामगांव निर्वाचन क्षेत्र में लोगों को जल किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. साथ ही पशु पालक के सामने चारा, पानी की समस्या निर्माण हुई है. अकाल की स्थिति में सरकार व्दारा रोजगार गारंटी योजना के तहत काम शुरू नहीं किए गए. जिसके कारण कई गांवों के मजदूरों को स्थलांतर करना पड़ रहा है.

जिले के ९१ प्रकल्प में केवल ४.४७ प्रश जल भंडार
बुलढाना जिले के ९१ प्रकल्प में केवल ४.४७ प्रतिशत जल भंडार होकर आगामी दिनों में लोगों को भीषण जल किल्लत का सामना करना पड़ेगा. एक ओर लोगों को पीने के लिए पानी नहीं है. तो दूसरी ओर नगर परिषद, पंचायत समिति, ग्राम पंचायत की माध्यम से विकास कार्य के लिए निर्माण कार्य पर लाखों लीटर पानी उपयोग में लाया जा रहा है. नागरिकों को जलापूर्ती करना प्रथम कर्तव्य होने के बावजूद भी प्रशासन के नियोजन शून्य कारोभार से लोगों को पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है. इसलिए खामगांव निर्वाचन क्षेत्र की जल समस्या दूर करने के लिए शीघ्र उपाययोजना करे नहीं तो आंदोलन किया जाएगा ऐसी चेतावनी पूर्व विधायक दिलीपकुमार सानंदा ने दी. इसवक्त शेगांव तहसील के कांग्रेस अध्यक्ष विजय काटोले, युवक कांग्रेस महासचिव तुषार चंदेल उपस्थित थे.