१५ लाख से की धोखाधड़ी

खामगांव. अकोला जिले के बालापुर निवासी शेख आसीफ शेख वाहीद ने ओएलएक्स वेबासाइट पर अपनी इंडिका गाड़ी बेचने के संदर्भ में विज्ञापन प्रसारित किया. जिसे देखते हुए खामगांव तहसील के दधम निवासी दिलीप शेषराव

खामगांव. अकोला जिले के बालापुर निवासी शेख आसीफ शेख वाहीद ने ओएलएक्स वेबासाइट पर अपनी इंडिका गाड़ी बेचने के संदर्भ में विज्ञापन प्रसारित किया. जिसे देखते हुए खामगांव तहसील के दधम निवासी दिलीप शेषराव चव्हाण ने शेख आसिफ से संपर्कâ कर इंडिका गाड़ी खरीदने की तैयारी दिखायी. किंâतु नगद रकम नहीं होने पर उसके बदले में सोने की गिन्नियां देने की बात कही गई. इसके बाद ५ अप्रैल की शाम ७ बजे शेख आसिफ ने टेंभुर्णा शिवार में दिलीप चव्हाण से मुलाकात की.

इस वक्त दिलीप चव्हाण ने उन्हें एक किलो सोने की गिन्नीयां दिखाकर उसकी कीमत करीबन २५ लाख रुपए बतायी. लेकिन शेख आसीफ ने केवल १५ लाख रुपयों में देने की तैयारी दिखायी. इस वक्त दोनों में सौदा तय होने के बाद १५ लाख रुपए देकर शेख आसिफ ने सोने की गिन्नीयां ली. इसके बाद शेख आसिफ ने गिन्नीयां की जांच की तब वह नकली निकली. जिससे धोखाधड़ी होने की बात सामने आयी.

जिस वक्त सौदा हुआ था उस वक्त शेख आसीफ ने दिलीप चव्हाण का फोटो अपने मोबाइल में खीच लिया था. जिसके आधार पर उसे खोजकर ग्रामीण पुलिस के हवाले कर दिया. इस मामले में शेख आसीफ ने ग्रामीण पुलिस थाने में शिकायत दी. दिलीप चव्हाण समेत उसके 3 साथियों के खिलाफ आईपीसीकी धारा ४२०, 3४ के तहत मामला दर्ज किया है.