८ दिन में कंपनी शुरू करे अन्यथ आंदोलन

मलकापुर. दसरखेड एमआयडीसी में बिरला कॉटसीन कंपनी विगत ११ वर्षों से शुरू है. किंतु विगत ६ माह से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कर्ज न चुका पाने पर कंपनी पर कब्जा किया है. किंतु कंपनी में कार्यरत कामगारों

मलकापुर. दसरखेड एमआयडीसी में बिरला कॉटसीन कंपनी विगत ११ वर्षों से शुरू है. किंतु विगत ६ माह से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कर्ज न चुका पाने पर कंपनी पर कब्जा किया है. किंतु कंपनी में कार्यरत कामगारों पर भूखे मरने की नौबत ना आए इसलिए रिजर्व बैंक ने इस कंपनी को मुंबई के सुजाता चटोपाध्याय को चलाने के लिए दी. किंतु चटोपाध्याय ने विगत ६ माह में खुद लाभ उठाया . लेकिन बिजली कंपनी का 3 करोड २१ लाख रुपए बिजली बिल बकाया रखा.

इसलिए ५ जून से कंपनी का बिजली कनेक्शन काटा. जिससे कंपनी में 3 शिफ्ट में काम करने वाले करिबन 3५० कामगारों पर भुखमरी की नौबत आ गयी है. इस बारे में जानकारी मिलते ही नगराध्यक्ष एड.हरिश रावल ने बिरला कॉटसीन कंपनी के जनरल मैनेजर भास्कर मित्रा, मेन सिक्युरिटी इन्चार्ज राजेंद्र भंसाली से जवाब तलब किया. साथ ही सुजाता चटोपाध्याय से मोबाइल पर संपर्कâ कर ८ दिन के भीतर बिजली बिल अदा कर कंपनी शुरु करने की मांग की. नही तो आंदोलन करने की चेतावनी दी है.