US researchers say India can reduce emissions in the power sector by increasing clean energy efficiency: report

    • किसानों की बिजली आपूर्ति खंडित करने का निषेध

    बुलढाना. महावितरण के बिजली बिलों का भुगतान नहीं कर पाने वाले किसानों की बिजली आपूर्ति महावितरण द्वारा खंडित की जा रही है. इसका निषेध करते हुए स्वाभिमानी किसान संगठन की ओर से सोमवार को बुलढाना में महावितरण के कार्यालय की बिजली आपूर्ति खंडित की गयी और बैठा आंदोलन किया गया. हम अंधेरे में तो तुम भी अंधेरे में ऐसी घोषणाएं इस अवसर पर आंदोलनकारियों द्वारा दी गयी. जिन जिन किसानों ने बिजी बिलों का भुगतान नहीं किया है, उनके बिजली कनेक्शन काटे जा रहे हैं.

    ग्रामीण क्षेत्रों में अनेक किसानों के बिजली कनेक्शन काटने का कार्य शुरू है. बिजली कटौती के कारण किसानों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. फसलें जल रही हैं क्योंकि उन्हें सिंचित नहीं किया जा सकता है. यहां तक ​​कि मवेशियों को पानी नहीं मिल रहा है. बिजली वितरण कंपनी को किसानों की बिजली आपूर्ति सुव्यवस्थित करने की मांग स्वाभिमानी किसान संगठन के नेता रविकांत तुपकर ने महावितरण से की है.

    इस अवसर पर रविकांत तुपकर के नेतृत्व में स्वाभिमानी किसान संगठन के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने महावितरण के अधीक्षक अभियंता दीपक देवहाते के कक्ष में बैठा आंदोलन किया. देवहाते से प्रतिसाद न मिलने से अंत में स्वाभिमानी किसान संगठन के पदाधिकारियों ने महावितरण कार्यालय की बिजली आपूर्ति खंडित कर दी. जब तक बिजली आपूर्ति सुचारू नहीं की जाती तब तक कार्यालय से न जाने का निश्चित स्वाभिमानी की ओर से लिया गया. देर शाम तक यह बैठा आंदोलन शुरू था.