टिटवी में भारी जलकिल्लत

लोणार. बिजली विभाग के ढुलमुल रवैये के चलते तहसील के आदिवासीबहुल ग्राम टिटवी में लोगों को भीषण जलकिल्लत का सामना करना पड़ रहा है. जलापूर्ति करने वाली डीपी बार-बार जलने से लोग पानी से वंचित रह रहे है.

लोणार. बिजली विभाग के ढुलमुल रवैये के चलते तहसील के आदिवासीबहुल ग्राम टिटवी में लोगों को भीषण जलकिल्लत का सामना करना पड़ रहा है. जलापूर्ति करने वाली डीपी बार-बार जलने से लोग पानी से वंचित रह रहे है. यह समस्या जल्द खत्म करने की मांग लोगों ने ऊर्जामंत्री को पत्र भेजकर की है.

बिजली आपूर्ति सुचारू नहीं
ऊर्जामंत्री चंद्रशेखर बावनकुले को भेजे पत्र में टिटवी के सरपंच भगवान कोकाटे ने कहा है कि, टिटव गांव के लिए तालाब के कुएं से जलापूर्ति योजना चलाई जाती है. इसके लिए बिजली आपूर्ति ग्राम डोले के फीडर से होती है. यहां पर एक 65 एचपी की डीपी पिछले माह में खराब हो गयी थी. तत्पश्चात 8 सितम्बर को यहां नयी डीपी लगाई गई. इसके बाद ग्रापं ने 15 एचपी का नया मोटरपंप बिठाया. लेकिन बिजली विभाग को जलापूर्ति योजना के लिए बिजली आपूर्ति सुचारू करने के विषय में बार-बार बताया गया, फिर भी अधिकारी इस ओर अनदेखी करते दिखाई दे रहे है. इस संदर्भ में उपविभागीय अभियंता आढाव तथा उपकार्यकारी अभियंता को सूचित कर शिकायत उनके समक्ष रखी गई. फिर भी बिजली की आपूर्ति न होने के कारण ग्राम टिटवी के लोगों को करीब डेढ महिने से जलकिल्लत का सामना करना पड़ रहा है.

ध्यान नहीं दे रहे अधिकारी
इस मामले पर गंभीरता से संज्ञान लेकर बिजली आपूर्ति सुचारू रूप से चलाएं, ऐसी मांग इस पत्र में की गई है. बिजली विभाग के अधिकारी लोगों की गं•भीर समस्याओं की ओर ध्यान न देने का आरोप भी इस पत्र में सरपंच कोकाटे ने लगाया है.