अमृता फडणवीस-शिवसेना की जुबानी जंग से एक्सिस बैंक को नुकसान

मुंबई, शिवसेना नेत्री प्रियंका चतुर्वेदी और महारष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अनृता फडणवीस के बीच हुई जुबानीजंग का खामियाजा अब एक्सिस बैंक को भुगतना पड़ रहा है। ख़बरों

मुंबई, शिवसेना नेत्री प्रियंका चतुर्वेदी और महारष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अनृता  फडणवीस के बीच हुई जुबानीजंग  का खामियाजा अब एक्सिस बैंक को भुगतना पड़ रहा है। ख़बरों के अनुसार शिवसेना ने  ठाणे नगर निगम के  अपने वेतन खातों को एक्सिस बैंक से हटाने का फैसला कर लिया है। अब यह वेतन खाता  एक राष्ट्रीयकृत बैंक में संभालेगी। अगर ऐसा हुआ तो एक्सिस बैंक को सालाना 11 हजार करोड़ रुपए का वेतन रखने से हाथ धोना पड़ सकता है।  

वहीं प्राप्त जानकारी के अनुसार ठाणे  नगर निगम के एक अधिकारी ने भी एक जानकारी देते हुए कहा है कि  ठाणे के महापौर नरेश म्हास्के ने गुरुवार को एक बैठक में अधिकारियों को वेतन खातों को एक्सिस बैंक से हटा  किसी राष्ट्रीयकृत बैंक में स्थानांतरित करने का निर्देश दिया है।कहा जा रहा है  यह पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी तथा एक्सिस बैंक में वरिष्ठ पद पर आसीन अमृता फडणवीस  और शिवसेना के बीच हुई जुबानी जंग का नतीजा है।  

विदित हो कि एक्सिस बैंक को महाराष्ट्र पुलिस विभाग का सालाना 11 हजार करोड़ रुपए का वेतन खाता  सम्हालता आ रहा है। लेकिन अब एक्सिस बैंक को सालाना 11 हजार करोड़ रुपए का वेतन रखने से हाथ धोना पड़ेगा। क्यूंकि अब उद्धव ठाकरे सरकार इस राशि को सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक में स्थानांतरित करने पर विचार कर रही है। खबरों के अनुसार यह प्रकरण  अमृता फडणवीस के उस ट्वीट के बाद शुरू हुआ, जिसमें उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ‘मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं’ वाले बयान को लेकर उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा था।  

आपको ये भी बता दें कि राहुल गांधी के बयान पर देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि राहुल हिन्दुत्व विचारक वीर सावरकर के नख के बराबर भी नहीं हैं। वहीं  इस पर अमृता ने अपने पति देवेंद्र फडणवीस के बयान पर हवा देते हुए रविवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बारे में कहा था कि कोई भी अपने नाम के आगे ‘ठाकरे’ लगाकर ठाकरे नहीं बन सकता। जिसपर शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने पलटवार करते हुए कहा कि  उद्धव ठाकरे अपने नाम पर खरे उतर रहे हैं परन्तु  अमृता फडनवीस शायद इस बात से अंजान हैं।  

ये भी प्रासंगिक है की जहाँ इस मुद्दे पर ठाणे के महापौर नरेश म्हास्के ने अपना पल्ला झड़ते हुए कहा कि यह मात्र एक साधारण प्रक्रिया है। वही ट्वीटर और  दूसरे सोशल मीडिया पर इस प्रकरण पर मिश्रित टिप्पणियां प्राप्त हो रही है। हालाँकि अभी तक एक्सिस बैंक से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।