कोविड-19 फिशिंग अटैक से सावधान रहे बैंकिंग ग्राहक

कोटक महिन्द्रा बैंक की ग्राहकों को सुरक्षा चेतावनी

मुंबई. कोटक महिन्द्रा बैंक ने अपने ग्राहकों से कोविड-19 फिशिंग अटैक से सावधान रहने को कहा है. इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम ने हाल ही में चेतावनी जारी की है कि साइबर अपराधी भारतीयों पर फिशिंग अटैक कर सकते हैं. इस हमले का उद्देश्य भारतीयों की निजी जानकारी चुराना है जिसमें उनके बैंक खाते का ब्यौरा भी शामिल है. साइबर अपराधी इसके लिए ncov2019@gov.in नामक ईमेल आईडी का इस्तेमाल कर सकते हैं. ये अपराधी या हैकर किसी सरकारी विभाग के प्रतिनिधि बन कर लोगों से उनकी निजी व बैंकिंग सूचनाएं मांगेगे और बदले में मुफ्त कोविड-19 टैस्टिंग का लालच देंगे. ऐसी सूचना है कि इन साइबर अपराधियों ने मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद, चेन्नई और अहमदाबाद के करोड़ों लोगों के ईमेल आईडी प्राप्त कर लिए हैं.

मुफ्त कोविड-19 टेस्टिंग का लालच देते हैकर

कोटक महिन्द्रा बैंक ने अपने ग्राहकों को चौकन्ना रहने को कहा है और सतर्क किया है कि किसी भी लिंक पर क्लिक करने से पहले, कोई अटैचमेंट डाउनलोड करने से पहले या अपनी निजी अथवा वित्तीय जानकारी ऐंटर करने से पहले दो बार सोचें. साइबर अपराधियों को उम्मीद है कि कोविड-19 के बारे में फैली दिलचस्पी का फायदा उठाते हुए वे मुफ्त कोविड-19 टेस्टिंग का लालच देकर लोगों से उनकी गोपनीय व बैंकिंग सूचनाएं हासिल कर लेंगे. ऐसे में यदि सावधान रहा जाए और ध्यान से देखकर कदम उठाया जाए तो आप सही व सुरक्षित तरीके से बैंकिंग कर सकते हैं.

सुरक्षित बैंकिंग हेतु उपयोगी बातें:

  1. अपने पासवर्ड, सीवीवी, ओटीपी, एटीएम पिन, कार्ड का ब्यौरा जैसी संवेदनशील जानकारियां किसी को भी न बताएं. कोटक बैंक या अन्य बैंक आपसे ऐसी सूचनाएं कभी नहीं पूछते हैं.
  2. केवल विश्वसनीय स्त्रोतों से आए लिंक पर ही क्लिक करें. यदि आपको किसी अनजान व्यक्ति से कोई ईमेल या टैक्स्ट मैसेज आए जिसमें किसी संदिग्ध लिंक पर आपसे क्लिक करने को कहा जाए जो सावधान हो जाएं और उस संदेश को डिलीट कर दें.
  3. अपने मन में संदेहयुक्त अवलोकन को इस प्रकार विकसित करें कि जो ईमेल आईडी आपने पहले कभी न देखा हो उसे पहचान सकें.
  4. स्क्रीन शेयरिंग ऐप्स जैसे ऐनीडेस्क, टीमव्यूअर आदि को डाउनलोड करने से परहेज़ करें क्योंकि इनके जरिए धोखाधड़ी करने वाले आपके उपकरण को काबू में कर लेते हैं, आपकी गोपनीय बैंकिंग जानकारी हासिल कर के आपकी जानकारी के बगैर आपके बैंक खाते और धन तक पहुंच जाते हैं.
  5.  बैंकिंग ट्रांज़ेक्शन पर तुरंत अपडेट पाने के लिए अपने एसएमएस और ईमेल अर्ल्ट को एक्टिवेट करें. ट्रांजेक्शन संबंधी संदेशों और पॉप-अप को बारीकी से जांचें.
  6. अपनी कॉन्टैक्ट डिटेल्स को बैंक के पास अपडेट रखें.
  7. बैंक से सम्पर्क की जानकारी के लिए हमेशा बैंक की आधिकारिक वेबसाइट विजि़ट करें.
  8. इसी तरह, जब भी ई-कॉमर्स या किसी सेवा प्रदाता के नंबर ऑनलाइन तलाश रहे हों तो सतर्क रहें, कंपनी की आधिकारिक वैबसाइट पर जाकर नंबर प्राप्त करें.
  9. अपने उपकरणों को सुरक्षा की अतिरिक्त परत से सुरक्षित करें. ऐंटीवायरस या ऐंटी-स्पाईवेयर सॉफ्टवेयर से ऑपरेटिंग सिस्टम को नियमित स्कैन करते हुए सुरक्षित रखें.