Ankur Bhatia

    नई दिल्ली. बर्ड ग्रुप के कार्यकारी निदेशक अंकुर भाटिया (Bird Group’s Executive Director Ankur Bhatia) का शुक्रवार 4 जून को निधन हो गया। रिपोर्ट में पता चला कि उनकी मौत दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ने से हुई है। वह 48 साल के थे।

    भाटिया के निधन के बाद उनके परिवार में उनकी पत्नी स्मृति भाटिया, जो एक आर्किटेक्ट हैं और उनके दो बच्चे- अर्णव और साइना हैं।

    भाटिया ने विकास के कई आयामों को मजबूती प्रदान करने के लिए अपने ग्रुप के रणनीतिक पहलुओं पर जोर दिया, जिसने कंपनी के आगे बढ़ने में अपना प्रमुख योगदान दिया है। उन्होंने ब्लू ओशन रणनीतियों को भी आकार देकर उन्हें लागू किया। ये समग्र ब्रांड के प्रस्ताव को मजबूत करते हुए बाजार में अपना नेतृत्व स्थापित कर विकास के नए आयाम पर है।

    भाटिया इंडियन टूरिज्म और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के पाठ्यक्रम को आकार देने के मामलों में सक्रिय रूप से शामिल थे।

    भाटिया को 1994 में भारतीय उपमहाद्वीप में एमेडियस ब्रांड लाने का श्रेय दिया जाता है। ब्रांड आज ट्रैवल एजेंटों और एयरलाइंस के लिए ट्रैवल टेक्नोलॉजी प्रदान करता है। 2019 में, एमॅड्यूस ने भारत में संचालन के 25 सफल वर्षों का जश्न मनाया।

    भारत में मोबिलिटी के भविष्य को आकार देने की दिशा में भाटिया की प्रतिबद्धता के अनुरूप बर्ड ग्रुप ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी स्पेस में कदम रखा और अपनी सहायक बर्ड इलेक्ट्रिक के उत्पाद पोर्टफोलियो में लगातार नए युग के नए मोबिलिटी वाहनों को शामिल कर रहा है।

    बर्ड इलेक्ट्रिक ने पिछले 10 वर्षों से सेगवे पर्सनल ट्रांसपोर्टर्स (पीटी) के अनन्य वितरक के रूप में भारत में व्यक्तिगत गतिशीलता उपकरणों को नई उंचाईं पर पहुंचाया है।

    वर्तमान समय में यह ग्रुप भारत और अमेरिका में छह लग्जरी संपत्तियों का मालिक है। उन्हें गुरुग्राम के एंबिएंस मॉल में स्थित देश के पहले प्राकृतिक और बारहमासी इनडोर आइस-स्केटिंग रिंक और कैफे – आईस्केट लॉन्च करने का श्रेय भी दिया जाता है।