Union Petroleum Minister Corona Positive

  • भारत बनेगा गैस आधारित अर्थव्यवस्था

मुंबई. केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने कहा है कि भारत सरकार देश में सीएनजी स्‍टेशन की संख्‍या को वर्तमान लगभग 2300 से बढ़ाकर अगले 4-5 वर्षों में 10,000 तक करना चाहती है. प्रधानमंत्री की सोच के अनुरूप नवीनतम गैस अवसंरचना के निर्माण में सिटी गैस वितरण (सीजीडी) इंडस्‍ट्री को प्रमुख भूमिका निभानी है. 

सीजीडी इंडस्‍ट्री को और अधिक प्रोत्‍साहन देने के लिए भारत सरकार द्वारा कई कदम उठाये जा रहे हैं और सामान्‍य लोगों को किफायती दरों पर गैस उपलब्‍ध कराया जा रहा है. केंद्रीय मंत्री ने यह बात मंगलवार को वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिए टोरेंट गैस के 42 सीएनजी स्‍टेशन और 3 सिटी गेट स्‍टेशनों का लोकार्पण करते हुए कही.

ऊर्जा क्षेत्र में डिजिटलीकरण पर जोर

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी के चलते पैदा हुई चुनौतीपूर्ण स्थिति के बावजूद टोरेंट गैस द्वारा हासिल की गई यह उपलब्धि सराहनीय है. वंचित क्षेत्रों में प्राकृतिक गैस को उपलब्‍ध कराने से उपभोक्‍ता इस स्‍वच्‍छ और सस्‍ते ईंधन को उपयोग में लाने के लिए प्रोत्‍साहित होंगे, जिसका पर्यावरण पर सकारात्‍मक प्रभाव पड़ेगा और बड़े पैमाने पर लोग इससे लाभान्वित हो सकेंगे. केंद्रीय मंत्री ने सीजीडी कंपनियों को व्‍यापक एनर्जी रिटेलर्स बनने और उनकी सेवाओं और भुगतान प्रणालियों को डिजिटल बनाने का आह्वान किया. उन्‍होंने इस बात पर भी बल दिया कि ऊर्जा क्षेत्र में डिजिटलीकरण के चलते किस तरह से रोजगार का सृजन हो सकता है, आयात पर निर्भरता घट सकती है और ‘आत्‍मनिर्भर भारत’  की ओर बढ़ा जा सकता है.

60 अरब डॉलर का निवेश होगा

केंद्रीय मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने कहा कि देश में गैस इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण में कुल 60 अरब डॉलर का निवेश होने का अनुमान है. यह निवेश पाइपलाइन, टर्मिनल और गैस फील्ड निर्माण में होगा. इस तरह भारत गैस आधारित अर्थव्यवस्था बनने जा रही है. इससे जहां बड़ी संख्या में रोजगार के नए अवसर भी निकलेंगे. स्वच्छ और सस्ते ईंधन के लिए सरकार अब देश में सीएनजी स्टेशन तेजी से खोलने पर बल दे रही है. ‍वर्ष 2014 में केवल 938 स्टेशन थे, जो अब बढ़कर 2300 हो गए हैं. महानगर गैस, इंद्रप्रस्थ गैस, गुजरात गैस, अडानी गैस और टोरेंट गैस सहित अन्य कंपनियां नए शहरों में विस्तार कर रही हैं.

टोरेंट गैस के हुए 100 CNG स्टेशन : जीनल मेहता

टोरेंट समूह की सिटी गैस वितरण कंपनी टोरेंट गैस के महाराष्ट्र सहित देश भर में 100 सीएनजी स्‍टेशन हो गए हैं. मंगलवार को टोरेंट गैस ने 42 सीएनजी स्‍टेशन और 3 सिटी गेट स्‍टेशन शुरू किए. नए सीएनजी स्‍टेशनों में उत्‍तर प्रदेश में 14, महाराष्‍ट्र में 8, गुजरात में 6, पंजाब में 4 और तेलंगाना और राजस्‍थान में 5-5 खोले गए हैं. टोरेंट गैस को सरकार से 7 राज्‍यों और 1 केंद्रशासित प्रदेश के 32 जिलों में सिटी गैस वितरण नेटवर्क स्‍थापित करने की मंजूरी मिली है. इस अवसर पर टोरेंट गैस के निदेशक जीनल मेहता ने कहा कि टोरेंट गैस, देश में सीएनजी और पीएनजी को व्‍यापक रूप से उपलब्‍ध कराने और भारत में उपलब्‍ध ऊर्जा में से प्राकृतिक गैस की हिस्‍सेदारी को वर्ष 2030 तक 6.2 प्रतिशत से बढ़ाकर 15 प्रतिशत करने के भारत सरकार के संकल्‍प को पूरा करने में योगदान देने के अपने उद्देश्‍य के प्रति वचनबद्ध है. टोरेंट गैस का मार्च 2023 तक 500 सीएनजी स्टेशन खोलने की योजना है. टोरेंट गैस, देश में सीजीडी इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर के निर्माण में अगले 5 वर्षों में कुल 8,000 करोड़ रुपए (1.1 अरब डॉलर) के निवेश का इरादा रखती है.