Rupee rises seven paise to close at 75.58 against the US dollar

वैश्विक बाजार में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर पड़ने और कच्चे तेल के दाम नीचे आने से सोमवार को डालर के मुकाबले रुपया सात पैसे बढ़कर 75.58 (अस्थाई आंकड़ा) रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ।

मुंबई. वैश्विक बाजार में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर पड़ने और कच्चे तेल के दाम नीचे आने से सोमवार को डालर के मुकाबले रुपया सात पैसे बढ़कर 75.58 (अस्थाई आंकड़ा) रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ। हालांकि, इस दौरान देश के शेयर बाजारों में गिरावट रही। विदेशी मुद्रा डीलरों का कहना है कि घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट, विदेशी मुद्रा की निकासी और कोविड-19 के मामलों से बढ़ती चिंता के बीच अमरिकी डालर के कमजोर पड़ने से भारतीय मुद्रा को समर्थन मिला और इसमें गिरावट थम गई। अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में कारोबार की शुरुआत में रुपया 75.64 रुपये प्रति डालर पर स्थिर खुला।

कारोबार के दौरान इसमें बढ़त दर्ज की गई और अंत में यह अमेरिकी डालर के मुकाबले 75.58 रुपये प्रति डालर पर बंद हुआ। पिछले बंद भाव के मुकाबले इसमें सात पैसे की वृद्धि रही। गत सप्ताहांत शुक्रवार को डालर के मुकाबले रुपया 75.65 रुपये पर बंद हुआ था। सोमवार को चार घंटे के कारोबारी सत्र के दौरान डालर रुपये की विनिमय दर ऊंचे में 75.52 रुपये और नीचे में 75.64 रुपये प्रति डालर रही।

इस बीच दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले एक करोड की संख्या को पार करते हुये 1.01 करोड़ तक पहुंच गये हैं जबकि इससे मरने वालों का आंकड़ा 5.01 लाख हो गया है। वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या पांच लाख 48 हजार 318 तक पहुंच गई है जबकि 16,475 लोगों की इससे मौत हो गई। उधर, वैश्विक बाजार में ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा भाव 2.15 प्रतिशत गिरकर 40.14 डालर प्रति बैरल रह गया।(एजेंसी)