share market
Representational Pic

    नयी दिल्ली. घरेलू शेयर बाजारों (Share Market) में बुधवार को अच्छी तेजी दर्ज की गयी और बाजार का बैरोमीटर समझा जाने वाला बीएसई-30 (BSE-30) सेंसेक्स 460 (Sensex 460) अंक सुधर कर बंद हुआ। कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) तेज होने से अर्थव्यवस्था (Economy) के सामने नयी परेशानियां खड़ी होने की चिंता के बीच रिजर्व बैंक (Reserve Bank) की मौद्रिक नीति समिति ने बुधवार को अपनी द्वैमासिक समीक्षा में कर्ज सस्ता रखने के नितिगत रुख को जारी रखने तथा पहली तिमाही में एक लाख करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों खरीद की घोषणा की। रिजर्व बैंक ने अपनी नीतिगत ब्याज दर को भी 4 प्रतिशत के वर्तमान स्तर पर बनाए रखा है तथा बैंकों के पास कर्ज के लिए वित्तीय संशाधनों का प्रवाह बढ़ाने के कुछ नए उपायों की घोषणा की है।

    बीएसई के 30 प्रमुख शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 460.37 अंक यानी 0.94 प्रतिशत उछल कर 49,661.76 अंक पर बंद हुआ। नेशलन स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 135.55 अंक यानी 0.92 प्रतिशत लाभ से 14,819.05 पर पहुंच गया। लाभ में रहे प्रमुख शेयरों में एसबीआई दो प्रतिशत से अधिक चढ़ गया। आईसीआईसीआई बैंक, नेस्ले इंडिया, इंडसइंड बैंक, एमएंडएम, बजाज आटो और मारुती भी लाभ में रहे। इसके विपरीत टाइटन, एनटीपीसी और एचयूएल में घाटा दर्ज किया गया।

    बाजार विश्लेषकों ने नीतिगत ब्याज दर को बरकरार रखने की रिजर्व बैंक की घोषणा को बाजार की प्रत्याशाओं के अनुरूप बताया। शेयरखान बाई बीएनपी पारिबा के पूंजी बाजार रणनीति विभाग के प्रमुख गौरव दुआ ने कहा कि रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष की पहली समीक्षा में मौद्रिक नीति नरम रखने के अपने नीतिगत रुझान को बरकार रखने की घोषणा करके वित्तीय बाजारों को भरोसा दिया है कि आर्थिक दशा में सुधार मजबूत बना रहेगा।

    एशियाई बाजारों में शांघाई और हांगकांग हानि में तथा सोल और टोक्यो लाभ में बंद हुए। यूरोपीय बाजारों में मध्याह्न तक रुझान सकारात्मक था। वैश्विक बजार में कच्चा तेल मानक ब्रेंट 0.37 प्रतिशत नरम होकर 62.97 डालर प्रति बैरल पर बोला जा रहा था। (एजेंसी)