Sensex

    मुंबई. देश के शेयर बाजारों में पिछले पांच कारोबारी सत्रों से जारी गिरावट पर शुक्रवार को विराम लग गया और बीएसई सेंसेक्स 642 अंक की जोरदार तेजी के साथ बंद हुआ। वैश्विक स्तर पर नकारात्मक रुख के बावजूद सूचकांक में अच्छी हिस्सेदारी रखने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचयूएल और आईसीआईसीआई बैंक में तेजी के साथ बाजार में मजबूती आयी। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स में उतार-चढ़ाव रहा। पर अंत में यह 641.72 अंक यानी 1.30 प्रतिशत की बढ़त के साथ 49,858.24 अंक पर बंद हुआ।

    नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 186.15 अंक यानी 1.28 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,744 पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एनटीपीसी का शेयर रहा। इसमें 4 प्रतिशत से अधिक की तेजी आयी। इसके अलावा एचयूएल, पावरग्रिड, रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट और बजाज फाइनेंस के शेयरों में भी तेजी रही। दूसरी तरफ जिन शेयरों में गिरावट रही उनमें एल एंड टी, टेक महिंद्रा, बजाज ऑटो और टाइटन प्रमुख हैं।

    रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, ‘‘कमजोर वैश्विक रुख के बावजूद घरेलू शेयर बाजार में पांच दिनों की गिरावट के बाद जोरदार तेजी आयी।” दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों (एफएमसीजी), दवा, धातु, और रिलायंस इंडस्ट्रीज में अच्छी तेजी से मानक सूचकांक में मजबूती आयी।

    उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर चिंता के बावजूद बांड प्रतिफल में हल्की गिरावट से घरेलू शेयर बाजार को समर्थन मिला। एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई, हांगकांग, तोक्यो और सोल में गिरावट रही। भारतीय समयानुसार दोपहर बाद खुले यूरोप के प्रमुख बाजारों में नुकसान का रुख रहा। इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.36 प्रतिशत की बढ़त के साथ 64.14 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। (एजेंसी)