market

    मुंबई. वैश्विक शेयर बाजारों (Share Market) में नकरात्मक रुख के बीच बीएसई सेंसेक्स (BSE Sexsex) सोमवार को शुरूआती बड़ी गिरावट से उबरते हुए अंत में 64 अंक के मामूली नुकसान के साथ बंद हुआ। शुरुआती कारोबार के दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज और बैंकिंग शेयरों में काफी गिरावट हुई, लेकिन बाद में रुपये में सुधार से बाजार को समर्थन मिला। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स एक समय 750 अंक से अधिक लुढ़क गया था। लेकिन बाद में इसमें सुधार आया और अंत में यह 63.84 अंक यानी 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 48,718.52 अंक पर बंद हुआ।

    नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में भी इसी प्रकार का उतार-चढ़ाव आया और अंत में यह 3.05 अंक यानी 0.02 प्रतिशत की मामूली बढ़त के साथ 14,634.15 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में टाइटन को सर्वाधिक 4.58 प्रतिशत का नुकसान हुआ। इसके अलावा इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एक्सिस बैंक, कोटक बैंक, ओएनजीसी, आईटीसी और आईसीआईसीआई बैंक भी गिरावट रही।

    दूसरी तरफ, भारती एयरटेल, एचयूएल, मारुति, बजाज फाइनेंस, एशियन पेंट्स और एनटीपीसी आदि शेयर लाभ में रहे। इनमें 3.98 प्रतिशत तक की तेजी आयी।

    रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी के अनुसार, “वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बावजूद शेयर बाजार दिन के न्यूनतम स्तर से ऊपर आया। बैंकों और एनबीएफसी (गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों) की ऋण वसूली और संपत्ति गुणवत्ता को लेकर चिंता से वित्तीय कंपनियों के शेयरों में बिकवाली दबाव रहा। हालांकि, दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों तथा धातु कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बाजार को समर्थन मिला।”

    उन्होंने कहा कि एक तरफ देश में लगातार कोविड संक्रमण के मामले ऊंचा बने रहने से निवेशकों की धारणा पर असर पड़ रहा है। दूसरी तरफ कंपनियो के बेहतर तिमाही परिणाम के साथ सकारात्मक प्रबंधन टिप्पणियों से बाजार को समर्थन मिल रहा है। वृहत आर्थिक मोर्च पर आईएचएस मार्किट इंडिया मैन्युफैक्चरिंग परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) अप्रैल में 55.5 था, जो मार्च के 55.4 के मुकाबले थोड़ा अधिक है। क्षेत्रवार बात करें तो बीएसई उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुओं, ऊर्जा, बैंक, तेल और गैस, रियल्टी तथा वित्तीय सूचकांक 1.99 प्रतिशत तक गिर गए, जबकि दूरसंचार, धातु और एफएमसीजी मुनाफे के साथ बंद हुए। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों को बढ़त देखने को मिली।

    स्वास्थ्य मंत्रालय के सोमवार को जारी आंकड़े के अनुसार देश में कोविड-19 संक्रमितों की संख्या बढ़कर 34,13,642 पहुंच गयी जो रविवार को 33,49,644 थी। एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग और सोल में गिरावट रही। शंघाई और ताक्यो अवकाश के कारण बंद रहे। यूरोपीय बाजारों में शुरूआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.63 प्रतिशत की गिरावट के साथ 66.34 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 14 पैसे मजबूत होकर 73.95 पर बंद हुआ। (एजेंसी)