Vehicle component industry will reduce dependence on imports from China

    नई दिल्ली: कोरोना वायरस की दूसरी लहर (Corona Virus Second Wave) के बाद दोबारा पटरी पर लौटने की कोशिश में लगी अर्थव्यवस्था को बड़ी राहत मिली है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय (Ministry of Commerce & Industry) द्वारा जारी किये आकड़ों के अनुसार, आठ प्रमुख उद्योगों का संयुक्त सूचकांक (Combined Index) अगस्त 2021 में 133.5 रहा। वहीं पिछले साल अगस्त 2020 के मुकाबले इसमें करीब 11.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। 

    आठ बुनियादी उद्योगों… कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली… का औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में 40.27 प्रतिशत भारांश है। पिछले साल अगस्त महीने में बुनियादी क्षेत्र के उद्योगों के उत्पादन 6.9 प्रतिशत की गिरावट आयी थी। यह तीसरा महीना है जब बुनियादी क्षेत्र उद्योगों में वृद्धि दर्ज की गयी है।

    आंकड़े के अनुसार कोयला, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पादों, इस्पात, सीमेंट और बिजली का उत्पादन अगस्त 2021 में सालाना आधार पर बढ़ा है। दूसरी तरफ कच्चा तेल और उवर्रक उद्योगों के उत्पादन में गिरावट आयी है।

    ऐसा रहा आठ उद्योगों का प्रदर्शन

    कोयला-कोयला उत्पादन: (भारांक: 10.33 प्रतिशत) अगस्त,२०११ में अगस्त,२०२० की तुलना में २०.६ प्रतिशत बढ़ा। अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 12.5 प्रतिशत बढ़ा।

    कच्चे तेल-कच्चे तेल का उत्पादन: (भारांक: 8.98 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 2.3 प्रतिशत कम हो गया। अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 3.2 प्रतिशत कम हो गया।

    प्राकृतिक गैस – प्राकृतिक गैस का उत्पादन: (भारांक: 6.88 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 20.6 प्रतिशत बढ़ा। इसका संचयी सूचकांक अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 21.0 प्रतिशत बढ़ा।

    पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्पाद-पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्पादन: (भारांक: 28.04 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 9.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसका संचयी सूचकांक अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 12.3 प्रतिशत बढ़ा।

    उर्वरक – उर्वरक उत्पादन: (भारांक: 2.63 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 3.1 प्रतिशत कम हो गया। इसका संचयी सूचकांक अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 1.5 प्रतिशत कम हो गया।

    इस्पात-इस्पात उत्पादन: (भारांक: 17.92 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 5.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसका संचयी सूचकांक अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 44.2 प्रतिशत बढ़ा।

    सीमेंट-सीमेंट उत्पादन: (भारांक: 5.37 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 36.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसका संचयी सूचकांक अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 44.3 प्रतिशत बढ़ा।

    बिजली-बिजली उत्पादन: (भार: 19.85 प्रतिशत) अगस्त, 2021 में अगस्त, 2020 की तुलना में 15.3 प्रतिशत बढ़ा। अप्रैल से अगस्त, 2021-22 के दौरान इसका संचयी सूचकांक पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 15.2 प्रतिशत बढ़ा।