सितंबर तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक का शुद्ध मुनाफा सात प्रतिशत घटकर 2,032 करोड़ रुपये

    नई दिल्ली: निजी क्षेत्र के कोटक महिंद्रा बैंक ने मंगलवार को बताया कि सितंबर 2021 को समाप्त दूसरी तिमाही में उसका शुद्ध मुनाफा लगभग सात प्रतिशत घटकर 2,032 करोड़ रुपये रह गया। पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक ने 2,184 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा कमाया था। 

    कोटक महिंद्रा बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि वर्ष 2021-22 की जुलाई-सितंबर अवधि के दौरान कुल आय बढ़कर 8,408.87 करोड़ रुपये हो गई, जबकि वित्त वर्ष 2020-21 की समान अवधि में यह 8,252.71 करोड़ रुपये थी। 

    वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही में बैंक की शुद्ध ब्याज आय, वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही के 3,897 करोड़ रुपये से तीन प्रतिशत बढ़कर 4,021 करोड़ रुपये हो गई। तिमाही के दौरान शुद्ध ब्याज मार्जिन 4.45 प्रतिशत था।

    परिसंपत्ति के मोर्चे पर, बैंक की सकल गैर-निष्पादित आस्ति (या खराब ऋण या एनपीए) सितंबर 2021 तिमाही के अंत तक 3.19 प्रतिशत हो गई जो एक साल पहले की समान अवधि के अंत तक 2.55 प्रतिशत थी।

    बैंक का शुद्ध एनपीए 0.64 प्रतिशत से बढ़कर 1.06 प्रतिशत पर था। सितंबर तिमाही के लिए बैंक के फंसे हुए ऋणों और आकस्मिकताओं के प्रावधानों को एक साल पहले की तिमाही में अलग रखे गए 333.22 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 423.99 करोड़ रुपये कर दिया गया था। (एजेंसी)