sensex-sinks-over-400-points-in-early-trade-nifty-drops-below-14-500
File Photo

    मुंबई: शेयर बाजारों में पिछले तीन कारोबारी सत्रों से जारी गिरावट पर बृहस्पतिवार को विराम लगा और मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स 209 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। वैश्विक बाजारों में सकारात्मक रुख के बीच टाटा स्टील, भारतीय स्टेट बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी से बाजार में मजबूती आयी। अमेरिकी फेडरल रिजर्व के नीतिगत रुख नरम रखने की बात दोहराये जाने से वैश्विक बाजारों में तेजी आयी, जिसका सकारात्मक असर घरेलू शेयर बाजार पर भी पड़ा। कारोबारियों के अनुसार डॉलर के मुकाबले रुपये में मजबूती तथा कुछ चुनिंदा प्रमुख शेयरों में सौदों को पूरा करने के लिये की गयी लिवाली से बाजार को और गति मिली।  

    तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 209.36 अंक यानी 0.40 प्रतिशत की बढ़त के साथ 52,653.07 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, एनएसई निफ्टी 69.05 अंक यानी 0.44 प्रतिशत मजबूत होकर 15,778.45 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में टाटा स्टील सर्वाधिक 6.87 प्रतिशत लाभ में रहा। इसके अलावा, बजाज फिनसर्व, एसबीआई, एचसीएल टेक, सन फार्मा, बजाज फाइनेंस और रिलायंस इंडस्ट्रीज में अच्छी तेजी रही। दूसरी तरफ, मारुति, पावरग्रिड, बजाज ऑटो और आईटीसी समेत अन्य शेयरों में 2.21 प्रतिशत तक की गिरावट रही। रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, ‘‘सकारात्मक वैश्विक रुख और धातु तथा आईटी शेयरों में मजबूत लिवाली से बाजार को समर्थन मिला। इसके अलावा कुछ चुनिंदा प्रमुख शेयरों में सौदों को पूरा करने के लिये की गयी लिवाली से भी बाजार में तेजी आयी।” उन्होंने कहा, ‘‘फेडरल रिजर्व के मौद्रिक नीति रुख नरम बनाये रखने और मासिक बांड खरीद कार्यक्रम के निकट और मध्यम अवधि में बदलाव की बहुत कम संभावना भारत समेत उभरते बाजारों के लिये अच्छी साबित हुई।”     

    मोदी के अनुसार हाल की गिरावट के बाद मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों में लिवाली की गयी। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक और चीन में प्रौद्योगिकी कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर घबराहट में लिवाली के बाद वैश्विक बाजार पटरी पर आयी…चीन का निवेशकों को शांत करने के प्रयास से भी बाजार को मदद मिली।” उन्होंने कहा कि अमेरिका में बुनियादी ढांचा के लिये बड़े वित्तीय पैकेज को अंतिम रूप दिये जाने की खबर और उससे मांग बढ़ने की उम्मीद से धातु शेयरों में जोरदार तेजी आयी।  

    एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई, हांगकांग, तोक्यो और सियोल लाभ में रहें। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी मध्याह्न कारोबार में सकारात्मक रुख रहा। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय कच्चा तेल बाार में ब्रेंट क्रूड 0.43 प्रतिशत मजबूत होकर 74.19 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर 9 पैसे मजबूत होकर 74.29 पर बंद हुई। शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक बुधवार को पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने 2,274.77 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे। (एजेंसी)