CAA Protest : सेलेब्स ने सोशल मीडिया पर जाहिर कि अपनी प्रतिक्रिया

नई दिल्ली, नागरिकता संसोधन कानून को लेकर देशभर से प्रतिक्रिया सामने आ रही है. देश के कई हिस्सों में लोग इस कानून का विरोध कर रहे हैं, तो वहीं बहुत सारे लोग इस कानून का समर्थन कर रह है. इस विरोध के

नई दिल्ली, नागरिकता संसोधन कानून को लेकर देशभर से प्रतिक्रिया सामने आ रही है. देश के कई हिस्सों में लोग इस कानून का विरोध कर रहे हैं, तो वहीं बहुत सारे लोग इस कानून का समर्थन कर रह है. इस विरोध के चलते देश के कुछ हिस्सों में हिंसा और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान होने की घटनाएं बढ़ने लगी है. जामिया मिल्लिया इस्लामिया में पिछले दो दिनों से CAA को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू है. साथ ही अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, हैदराबाद और लखनऊ यूनिवर्सिटी में भी विरोध प्रदर्शन शुरू है.

आम जनता से लेकर सेलेब्स तक सभी भी CAA को लेकर अपनी बात सामने रख रह है. हुमा कुरैशी, स्वरा भास्कर , रिचा चड्ढा, दिया मिर्जा, जावेद अख्तर, अक्षय कुमार, तापसी पन्नू से लेकर परिणीति चोपड़ा तक सभी ने CAA को लेकर अपनी राय सोशल मीडिया पर शेयर की है. 

जामिया के छात्रों के साथ पुलिस के बर्ताव पर स्वरा ने ट्वीट किया, ‘हिंसा के चौंकाने वाले मैसेज, छात्रों पर आंसू गैस के गोले छोड़े गए, छात्रों के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार क्यों किया जा रहा है? हॉस्टल में आंसू गैस के गोले क्यों छोड़े गए? दिल्ली पुलिस ये क्या चल रहा है। चौंकाने वाला और शर्मनाक’।

बॉलीवुड के जाने माने लेखक, शायर और गीतकार जावेद अख्तर ने जामिया में स्टूडेंट द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन के बाद पुलिस की लाठीचार्ज पर ट्वीट करते हुए कहा, ‘लॉ ऑफ लैंड के मुताबिक, किसी भी परिस्थिति में पुलिस किसी भी यूनिवर्सिटी के कैंपस में यूनिवर्सिटी के अधिकारियों की इजाजत के बिना नहीं घुस सकती। जामिया कैंपस में बिना इजाजत घुसकर पुलिस ने एक ऐसी मिसाल कायम की है, जो हर यूनिवर्सिटी के लिए एक खतरा है।’

इस मामले में हुमा कुरैशी ने पीएम मोदी और अमित शाह से सवाल करते हुए लिखा, यह असत्य है। हम एक धर्मनिरपेक्ष लोकतंत्र में रह रहे हैं। छात्रों के साथ पुलिस ने जो हिंसा दिखाई है, वो भयानक है। नागरिकों को शांतिपूर्वक विरोध करने का अधिकार है। @narendramodi @AmitShah या अब कोई विकल्प नहीं है ??

परिणीति ने गुस्सा जाहिर करते हुए ट्वीट किया, ‘अगर लोगों द्वारा अपने विचार व्यक्त करने से हर बार यही होता रहे तो #CAB (Citizenship Amendment Bill) को भूल जाइये। हमें एक बिल पास करना चाहिए और अब अपने देश को लोकतांत्रिक देश नहीं कहना चाहिए। अपने मन की बात कहने के लिए निर्दोष लोगों की पिटाई की जा रही है? ये बर्बरता है।

बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार ने सोमवार को ट्विटर के माध्यम से जामिया के छात्रों द्वारा किए गए ट्वीट को गलती से लाइक किए जाने की पुष्टि की।उन्होंने लिखा, "जामिया के छात्रों के ट्वीट को लाइक किए जाने को लेकर, वह गलती से लाइक किया गया था। मैं स्क्रॉल कर रहा था और गलती से लाइक दब गया, और जब मुझे अहसास हुआ, तब मैंने उसे तुरंत अनलाइक किया, मैं ऐसे कृत्यों का समर्थन नहीं करता हूं।"