अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस: विश्व में भारत का वर्चस्व बढ़ाने वाली इन महिलाओं की आय जानकर रह जाएंगे दंग

भारत के इतिहास में महान रानी- महारानियों का ज़िक्र तो हम हमेशा ही सुनते है जिन्होंने देश ही नहीं विदेशों में भी अपना लोहा मनवाया है। इसी तरह वर्तमान में भी देश की कई महिलाओ ने विश्व में भारत का

भारत के इतिहास में महान रानी- महारानियों का ज़िक्र तो हम हमेशा ही सुनते है जिन्होंने देश ही नहीं विदेशों में भी अपना लोहा मनवाया है। इसी तरह वर्तमान में भी देश की कई महिलाओ ने विश्व में भारत का वर्चस्व बढाया हैं। देश ही नहीं विदेशों में भी यह अपना परचम लहरा रही हैं और देश का नाम रोशन कर रही हैं। हर मायनों में हम इनसे प्रेरणा ले सकते हैं। चलिए जानते है उनकी सफलता के बारे में-

1.Indira Nooyi- Amazon 

इंद्रा नुई का पूरा नाम इंद्रा कृष्णमूर्ति नूई है। इंदिरा नोई इस समय अमेजन की Board of Directors में शामिल हैं। इनका जन्म 28 अक्टूबर 1955 में तमिल नाडु के चेन्नई में हुआ था। साल 2002 में इंद्रा का विवाह Amsoft System के अध्यक्ष राज के नुई से हुआ उन्हें दो बेटियां भी हैं। उन्होंने अपना MBA- IIM कोलकाता से किया और 1978 में अमेरिका की ‘Yale University’ से पब्लिक मैनेजमेंट का कोर्स किया। सन 1994 में इंद्रा नूई पेप्सिको में शामिल हुईं और 2001 में वह कंपनी की अध्यक्ष और मुख्य वित्त अधिकारी (CEO) बनायी गई हलाकि उन्होंने किसी कारण से यह पद छोड़ दिया हैं। 2007 से अब तक वह फोर्ब्स की लिस्ट में 100 पॉवरफुल वीमेन में शामिल होती रही हैं। भारत सरकार की तरफ से 2007 में उन्हें पद्म भूषण सम्मान से नवाजा गया था। इंदिरा नूई को फ़रवरी 2018 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने स्वतंत्र निदेशक नियुक्त किया था। वह इस पद को संभालने वाली पहली महिला थी। इंद्रा नुई की कुल नेटवर्थ 100 मिलियन अमरीकी डालर हैं।

2.Richa Kar- Zivame 

35 लाख रुपये की लागत के साथ अपनी कंपनी की नीव रखने वाली ऋचा कर आज 100 करोड़ की मालकिन हैं। अपनी कंपनी शुरू करने के लिए फंड्स उन्होंने परिवार और खुद की सेविंग्स से लिए थे। कई निवेशक उनकी कंपनी में निवेश भी कर रहे हैं जिनमें टाटा, यूनीलेजर वेंचर्स, जोडियस टेक्नोलॉजी फंड और खजानाह नेशनल बेरहद के नाम हैं। ऋचा कर ऑनलाइन शॉपिंग स्‍टोर जिवामे को फाउंडर हैं। ज़िवामे इंडिया में पहली सबसे लोकप्रिस गारमेंट ऑनलाइन साइट है जो कि महिलाओं को इनर वियर बेचती है। ज़िवामे पर अंडर गारमेंट्स की 5000 से ज्यादा स्टाइल्स लड्भाग 50 ब्रांड और 100 से ज्यादा साइज में मौजूद हैं। ऋचा के अनुसार ज्यादातर महिलाएं अंडर गारमेंट्स खरीदने में शरमाती है तो इसलिए उन्होंने ज़िवामे के ज़रिए उनकी मदद करने की कोशिश की हैं। 

यह भी पढ़े: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस: महिलाओं के डर से ऐसे भागा था रूस का सम्राट ज़ार, जाने पूरा इतिहास

3.Sunita Williams- Astronaut 

भारतीय मूल की अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स का जन्म 19 सितंबर, 1965 को अमेरिका के ओहियो में हुआ था। सुनीता गुजरात के अहमदाबाद से संबंध रखती हैं। वह भारतीय मूल की दूसरी महिला है जो अंतरिक्ष एजेंसी नासा के माध्यम से अंतरिक्ष में गई हैं। वह अब तक अब तक अंतरिक्ष में 322 दिन रहने का रिकॉर्ड बना चुकी हैं। उन्होंने जून 1998 में नासा ज्वाइन किया था और वह अब तक कुल 30 अलग-अलग अंतरिक्ष यानों में 2770 उड़ानें भर चुकी हैं। विलियम्स की शादी ओरेगन में संघीय पुलिस अधिकारी माइकल जे विलियम्स से हुई है। उन्हें विश्व गुजराती सोसाइटी द्वारा सरदार वल्लभभाई पटेल विश्व प्रतिभा पुरस्कार से सम्मानित किया गया, वह भारतीय मूल की पहली व्यक्ति है जो भारतीय नागरिक नहीं है और उन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया। सुनीता विलियम्स की कुल नेट वर्थ 1 मिलियन अमेरिकी डॉलर  है।

4.Indu Jain- Bannet, Colman Corporation

भारत के सबसे बड़े मीडिया ग्रुप बेनेट कोलमैन ऐंड कंपनी की अध्यक्ष और भारत की दूसरी महिला अरबपति है 8 सितंबर 1936 को फैजाबाद, उत्तर प्रदेश में जन्मी इंदु जैन। वर्तमान में मीडिया ग्रुप बेनेट कोलमैन ऐंड कंपनी मीडिया ग्रुप 13 न्यूजपेपर और 18 मैगजीन पब्लिश करता है। इसकी स्थापना वर्ष 1838 में हुई थी। स्वर्गीय अशोक कुमार जैन से इंदु का विवाह हुआ था। उनके दो बच्चे भी हैं। भारतीय महिला कांग्रेस (ICW) ने उन्हें  अंतर्राष्ट्रीय लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से नवाज़ा था। साथ ही 2016 में  वह पद्म भूषण से भी सम्मानित हो चुकी है। एफआईसीसीआई की लेडीज विंग को फाउंडर प्रेसिडेंट भी हैं। इंदु जैन की कुल नेटवर्थ 2।6 बिलियन अमरीकी डालर यानी भारतीय मुद्रा में 260 करोड़ रुपये है। 

5.Vandana Luthra- VLCC 

वेस्ट बंगाल के कोलकाता में जन्म 12 जुलाई 1959 को जन्मी वंदना लूथरा एक बहुत बड़ी हेल्थ केयर कंपनी की मालकिन हैं। वंदना को इसकी प्रेरणा उनकी माँ से मिली। उनकी माँ का अमर ज्योति नाम का एक संगठन था। 1989 में उन्होंने अपनी कंपनी VLCC Wellness & Beauty Company शुरू की जिसका पहला आउटलेट दिल्ली में था। हम वर्तमान की बात करे तो पूरे देश में  VLCC के 72000 आउटलेट्स हैं। भारत ही नही दुनिया के 11 देशों में  VLCC के आउटलेट हैं। वर्ष 2013 में वंदना को पद्मश्री सम्मान दिया गया था। उन्हें फार्च्यून इंडिया से 2015 में देश की 33th पावरफुल फीमेल इंटरप्रेन्योर का खिताब दिया गया था।1980 में उनका विवाह मुकेश लूथरा से हुआ था और उन्हें दो बच्चे भी हैं। वंदना की कुल नेट वर्थ income 1 मिलियन अमेरिकी डॉलर  है।

6.Priyanka Chopra- Actress, Singer, Film Producer  

प्रियंका चोपड़ा का जन्म 18 जुलाई 1982 को जमशेदपुर, झारखण्ड में हुआ था। महज़ 18 साल की उम्र में प्रियंका ने वर्ष 2000 में मिस वर्ल्ड का खिताब जीता था। भारत के राष्ट्रपति ने उन्हें साल 2017 में पद्म श्री से नवाज़ा था। प्रियंका बॉलीवुड के साथ- साथ हॉलीवुड में अभिनय करती हैं। देसी गर्ल के नाम से प्रसिद्ध प्रियंका की बॉलीवुड में पहली फिल्म ‘द हीरो: लव स्टोरी ऑफ़ अ स्पाई’ थी। अंदाज़, मुझसे शादी करोगी और ऐतराज़ जैसी फिल्मों ने बॉलीवुड में आग लगा दी थी। फिल्म फैशन के लिए प्रियंका ने नेशनल फिल्म अवार्ड फॉर बेस्ट एक्ट्रेस भी जीता था। प्रियंका को क्रमशः 2010 और 2016 में बाल अधिकारों के लिए राष्ट्रीय और वैश्विक यूनिसेफ सद्भावना राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया था। 2017 और 2018 में, फोर्ब्स ने उन्हें विश्व की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं में सूचीबद्ध किया। बीते वर्ष उन्होंने अमेरिकी सिंगर निक जोनस से शादी की हैं। प्रियंका चोपड़ा की कुल नेटवर्थ 30 मिलियन अमरीकी डालर है, जो कि भारतीय मुद्रा में 215.28 करोड़ रुपये है।