700 bed private corona hospital realizing at Shakuntala Farm

कोरोना वायरस के बढते संक्रमण को देखते हुए हास्पिटल में बेड उपलब्ध नहीं है। बाधितों का उपचार करने वाले चिकित्सकों की कमी है।

  • सिर्फ धनाढयों का होगा यहां उपचार

चंद्रपुर. कोरोना वायरस के बढते संक्रमण को देखते हुए हास्पिटल में बेड उपलब्ध नहीं है। बाधितों का उपचार करने वाले चिकित्सकों की कमी है। क्योंकि अधिकांश डाक्टर स्वयं कोरोना बाधित हो चुके है। ऐसे में कोरोना बाधितों की संख्या बढती जा रही है और अनेक मौत के मुहाने पर है। ऐसे में शासन के उचित नियोजन की आवश्यकता है किंतु चंद्रपुर शहर के शंकुतला फार्म में 700 बेड का निजी हास्पिटल निर्माण किया जा रहा है।

700 बेड वाले हास्पिटल का काम युध्द स्तर पर शुरु है। उल्लेखनीय है कि यहां निर्माणाधीन 700 बेड वाले हास्पिटल का खर्च सामान्य इंसान नहीं कर सकता है यहां महज धनाढय ही अपना उपचार करा सकते है वहीं सामान्य नागरिकों का उपचार सरकारी हास्पिटल में ही होगा।

जिले के कोरोना बाधितों की संख्या को देखते हुये प्रशासन को उचित नियोजन करना चाहिये। मेडिकल कालेज नई इमारत, लान, निजी सभागृह जैसे अनेक विकल्प रहते हुए प्रशासन महज जनता कर्फ्यू और मेरा परिवार मेरी जवाबदारी में व्यस्त है। विशेष बात है कि कोरोना बाधितों को उचित उपचार मिले इसके लिए किसी राजनीतिक दल का ध्यान नहीं है अथवा जान बुझकर अनदेखी कर रहे है। जनता कर्फ्यू की बैठक में सभी जनप्रतिनिधि राजनीतिक दल के नेता पदाधिकारी शामिल होंगे किंतु कोरोना बाधितों के लिए कोई घर से बाहर निकलने को तैयार नहीं है।