आप का चित्कार आंदोलन

राजुरा. आम आदमी पार्टी राजुरा की ओर से पंचायत समिति चौक राजुरा में किसानों के विभिन्न मांगों लेकर आंदोलन किया गया. इस वर्ष किसान बड़े आर्थिक संकट में घिरे हुए है. शुरूआत से किान अनेक समस्याओं का सामना कर रहे है. बोगस सोयाबीन बीजों के कारण किसानों को दोबारा बुआई करनी पड़ी परंतु सरकार ने ध्यान नहीं दिया. किसान पुन: संकट में फंस गया है कपास पर बोंड ईल्ली के कारण जिन किसानों का 100 क्विंटल कपास होता था उन्हें 20 से 30 क्विंटल कपास नहीं मिला.

ऐसी स्थिति में राज्य सरकार किसानों की 30 हजार हेक्टेयर मदद करें, लॉकडाऊन समय का बिजली बिल माफ करे,बोगस बीज मामले में किसानों को नुकसान भरपाई दे इन मांगों को लेकर आम आदमी पार्टी की ओर से आंदोलन किया गया. सरकार का निषेध कर बिजली बिलों की होली की गई. राज्य एवं केन्द्र सरकार के किसान विरोधी नीतियों का निषेध किया गया.

म.ज्योतिबा फुले एवं भारतरत्न डा. बाबासाहब आंबेडकर के पुतले पर मालार्पण कर भजन के साथ आंदोलन की शुरूआत की गई. इस बीच बिजली बिलों की होली की गई. इस समय आप के विदर्भ कमेटी सदस्य मनोहर पवार, जिलाध्यक्ष सुनील मुसले, संगठन मंत्री परमजीत सिंह झगडे, जिला सचिव संतोष दोरखंडे, बल्लारपुर शहर अध्यक्ष बलराम केसकर, कसारेजी राजुरा तहसील अध्यक्ष रोशन येवले, शेतकरी आघाडी अध्यक्ष स्वप्नील कोहपरे, किसान क्रांति समन्वय समिति अध्यक्ष प्रदीप बोबडे, वरिष्ठ नेता मार्गदर्शक मिलींद गड्डमवार, सहसंयोजक पवन ताकसांडे, तुलसीराम किनाके, सहसंयोजक सुरेश लोखंडे, अतुल चनकपुरे, सुमीत कोहपरे, सूरज सुरकार, किरण आत्राम, राहुल चौघरी आदि उपस्थित थे.