आश्वासन के बाद कामगारों का आंदोलन खत्म, डालमिया कंपनी का मामला

    चंद्रपुर/गड़चांदूर. कोरपना तहसील के नारंडा स्थित डालमिया सीमेंट कंपनी के खिलाफ कामगारों ने नारंडा सीमेंट कामगार संघ के बैनर तले आंदोलन शुरू किया था. शुक्रवार को दोपहर करीब 3.30 बजे मानव संसाधन विभाग के प्रमुख कोल्हटकर के हस्ताक्षर वाला आश्वासन पत्र एचआर विभाग के राजेश जुनोरकर ने संघ के अध्यक्ष मनोज भटारकर, सचिव रमेश वेट्टी को आंदोलन मंडप में आकर सौंपा.

    जिसके बाद आंदोलन समाप्ति की घोषणा की गई. शुक्रवार को एसडीपीओ आर.आर. पवार, थानेदार ढाकणे की प्रमुख उपस्थिति में कंपनी व्यवस्थापन के साथ लंबी चर्चा के बाद कंपनी ने तत्कालीन मुरली सीमेंट कंपनी में कार्यरत 306 स्थायी कामगार, 450 कैजुयल लेबर और 150 पैकिंग प्लांट के कामगारों को काम पर लेने का लिखित आश्सासन दिया है.

    इस अवसर पर नारंडा कामगार संघ के अध्यक्ष मनोज भटारकर, सचिव रमेश वेट्टी, गुरुदास वरहाटे, अनिल वाघमारे, संजय चहानकर, अशोक कुचनकर, संतोष संकुलवार, बंडू, विद्या भटारकर, जागृति खंडागले, रेखा वेट्टी, रंजना पुसाम आदि उपस्थित थे.