Agricultural department to protect paddy from pests

जिले के मूल, सावली, नागभीड, सिंदेवाही, ब्रम्हपुरी आदि तहसीलों में उच्च श्रेणी के धान की खेती की जाती है।

  • कृषि अधिकारी कर रहे किसानों को मार्गदर्शन

चंद्रपुर. जिले के मूल, सावली, नागभीड, सिंदेवाही, ब्रम्हपुरी आदि तहसीलों में उच्च श्रेणी के धान की खेती की जाती है। इसलिए चंद्रपुर जिले को धान का कटोरा भी कहा जाता है। इस वर्ष जिले की हजारों हेक्टेयर में धान की पैदावार की जाती है। किंतु इन दिनों लौटते मानसून और वातावरण में बदल के कारण धान पर अनेक प्रकार के कीट लग रहे है। धान को कीटों से बचाने के लिए कृषि विभाग के अधिकारी किसानों के खेत के मेड पर जाकर मार्गदर्शन कर रहे है।

धान पर लगे कीट की वजह से फसलों को नुकसान से बचाने के लिए किसानों ने दो तीन बार कीटनाशकों का छिडकाव किया है। किंतु इसका अधिक लाभ न मिलने से किसान चिंतीत हो गये। धान पर लगे कीटों की वजह से उन्हे हाथ में आई फसल बर्बाद होने की उम्मीद है। जिससे किसान पुन: एक बार आर्थिक संकट में फंसता दिखाई दे रहा है। इसकी सूचना मिलने पर सावली पंचायत समिति के कृषि विभाग के कृषि अधिकारी सीधे किसानों के खेत में जाकर मार्गदर्शन कर फसलों को कीटों से बचाने के लिए क्या उपाय योजना करें इस पर मार्गदर्शन कर रहे है। जिससे किसानों को काफी राहत मिलने की उम्मीद है।