बाइक का किया अंतिम संस्कार – पेट्रोल मूल्यवृद्धि का कांग्रेस ने किया विरोध

घुग्घुस. देश में कोरोना वायरस की वजह से पिछले 3 महीने से लॉकडाउन, जिला बंदी लागू है. इससे सभी प्रकार के उद्योग, व्यवसाय, रोजगार पूरी तरह से ठप पड़े है. गरीब, मध्यमवर्गीय का जीवन दुश्वार हो रहा है. उन्हें कई प्रकार की समस्याओं से जूझना पड़ रहा है. धीरे-धीरे लॉकडाउन हटाया जा रहा और नागरिक रोजगार की तलाश में निकल रहे हैं. किंतु अब केंद्र सरकार ने ईंधन मूल्य वृद्धि कर मध्यम वर्गियों की कमर तोड़ दी है. इसके खिलाफ घुग्घुस शहर कांग्रेस की ओर से बाइक का अंतिम संस्कार कर केंद्र सरकार के निर्णय का विरोध किया गया.

महंगाई बढ़ने की आशंका
कांग्रेस ने कहा कि पिछले 16 दिनों से देश में प्रतिदिन पेट्रोल, डीजल की मूल्यवृद्धि की जा रही है. डीजल मूल्य वृद्धि की वजह से अनाज, किराना, सब्जी आदि के मालवाहक का किराया बढ़ा है. इसकी वजह से महंगाई और बढ़ने की आशंका है. वाहनों में पेट्रोल भरना मजबूरी होने से आम लोगों को आर्थिक संकट झेलने पड़ रहे हैं. एक ओर कच्चे तेल की कीमत में कमी आ रही है, वहीं सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ा रही है. सामान्य नागरिकों को महंगाई के गर्त में धकेलने का प्रयास किया जा रहा है. लगातार हो रही ईंधन मूल्यवृद्धि के निषेध में घुग्घुस शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजू रेड्डी के नेतृत्व में आंदोलन किया गया. इसमें कामगार नेता सैयद अनवर, अजय उपाध्ये, विशाल मादर, शहजाद शेख, अंकुश सपाटे, कल्याण सोदारी, संजय कोवे, रोशन दंतलवार, रंजित राखुंडे आदि ने हिस्सा लिया.