साले ने की जीजा की हत्या

  • उसकी बहन को जीजा करता था प्राताडित

चिमूर. एक आकस्मिक मृत्यु मामले की जांच में पुलिस ने पाया कि बहन को जीजा द्वारा प्राताडित किए जाने से उसके साले ने नहर में धक्का देकर जीजा की जान ली थी। जांच के पश्चात यह साफ होने के बाद चिमूर पुलिस ने आरोपी साले को गिरफ्तार कर लिया है।

चिमूर पुलिस स्टेशन अंतर्गत कवडसी ग्राम निवासी अंकित दीपक नैताम (21) ने चिमूर थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि बामनी तहसील उमरेड निवासी उसका पति दीपक नैताम (32) की कवडसी जंगल के नहर में डूबने से मृत्यु हो गई। अंकिता की रिपोर्ट के आधार  पर पुलिस ने 18 सितंबर को आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया था। किंतु पुलिस जांच में पाया कि मृतक के साले रोशन सूर्यभान मसराम (30) ने अपने जीजा दीपक का धमकी दी थी कि यदि उन्होंने उसकी बहन अंकित को प्राताडित करना बंद नहीं किया तो उसकी जान ले लेगा।

घटना के दिन भी दीपक के साथ उसका झगडा हुआ था और रोशन ने कवडसी गांव के खेतों के पास स्थित नहर में जीजा दीपक का धक्का दे दिया था जिससे उसकी डूबने से मृत्यु हो गई। पुलिस जांच में यह खुलासा होने के बाद पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु की बजाय हत्या का मामला दर्ज किया। बोथली निवासी सुनंदा विजय नैताम की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। मामले की जांच पुलिस अधीक्षक अरविंद सालवे, अपर पुलिस अधीक्षक प्रशांत खैरे, एसडीपओ निलेश पांडे, थानेदार स्वप्निल धुले के मार्गदर्शन में पीएसआई मंगेश मोहोड, दल के प्रमोद गुट्टे, सचिन गजभिये, सतीश झिलपे कर रहे है।