Dead bodies of 2 boys drowned in Wardha river

जबकि नदी में डूबे प्रेम गेडाम की तलाश पुलिस कर रही है।

  • डूबे तीसरे बालक की तलाश जारी

चंद्रपुर. घुग्घुस के वर्धा नदी में डूबे 3 बालकों में से पृथ्वीराज आसुटकर और प्रचल वानखेडे के शव तलाशने में पुलिस को आज रविवार की सफलता मिली है। जबकि नदी में डूबे प्रेम गेडाम की तलाश पुलिस कर रही है।

शनिवार की सुबह अमराई वार्ड निवासी 2 युवक और 3 बालक वर्धा नदी के चिंचोली घाट पर तैरने के लिए गये थे। किंतु नदी के गहराई का अनुमान न होने से अचानक एक बालक डूबने लगा उसे बचाने के लिए अन्य बालक नदी में कूद पडे किंतु उनमें से 3 डूबे गये। जबकि 2 युवक किसी प्रकार नदी से बच निकले। बताया जाता है कि नीलामी न होने के बावजूद वर्धा नदी के रेत घाटों से बडे पैमाने पर दिन रात रेत की तस्करी होती है। जब बालक डूब रहे थे तब भी रेत तस्कर वहां पर मौजूद थे। किंतु उन लोगों ने बालकों को बचाने की बजाय वहां से रफू चक्कार होना बेहतर समझा।

सूचना मिलने पर शनिवार की दोपहर से पुलिस और राहत दल ने डूबे बालकों की तलाश शुरू की। किंतु जल्द रात हो जाने से तलाशी अभियान बंद करना पडा। आज रविवार की सुबह पुलिस दल ने डूबे बालकों की तलाश शुरु की तो पृथ्वीराज आसुटकर और प्रचल वानखेडे के शव पुलिस को बरामद हुये। एक का शव डूबने वाली जगह के पास और दूसरे का लगभग एक से डेढ किमी दूरी पर मिला है। वहीं तीसरे डूबे बालक प्रेम गेडाम की तलाश कर रही है।