Tiger scare in paddy harvesters
File Photo

पोंभूर्णा. जंगल से सटे गांव में मानव_वन्यजीवों में संघर्ष दिनोदिन बढता जा रहा है. ऐसे में आज बुधवार की दोपहर पोंभूर्णा तहसील के जंगलव्याप्त केमारा में एक युवक पर झाडीयों में छिपे बाघ ने अचानक हमला कर युवक को मौत के घाट उतारा. मृतक युवक का नाम सुजत नेवारे 18 है. सुजत के पश्चात बाघ ने 2 बकरीयों का भी शिकार किया.  

सुत्रो के मुताबिक, केमारा निवासी सुजत श्रीकृष्ण नेवारे 18 यह गांव से करिबन 1 किमी की दुरी पर स्थित पोंभूर्णा वनपरिक्षेत्र के केमारा बीट कक्ष क्रमांक 100 में जंगल परिसर में बकरीयों को घास चराने ले गया था. इसी बीच झाडीयों में छिपे बाघ ने सुजत पर हमला किया. हमले में सुजत ने स्वयं को बचाने काफी का प्रयास किया परंतु बाघ के हमले के सामने उसकी एक ना चली. बाघ ने सुजत के गर्दन पर हमला किया. जिसमे सुजत की मृत्यु हो गयी. 

इसकी सूचना वनविभाग कर्मीयों को मिलने पर घटनास्थल पहुची टिम ने कोठारी पुलिस को इसकी सूचना दी. पुलिस ने घटनास्थल पहुचकर पंचनामा किया व शव को पीएम के लिए भेजा गया. आगे की जांच कोठारी पुलिस कर रही है. 

बकरीयों का किया शिकार

बाघ ने सुजत पर हमला कर उसे मौत के घाट उतारने के पश्चात वहां मौजुद बकरीयों पर हमला कर 2 बकरीयों का शिकार किया. परिसर में 2 मृतक बकरीयां पाई गई. 

परिसर में बाघ की दहशत 

इसके पहले भी बाघ के हमले की घटनाए पोंभूर्णा तहसील में घटी. इन हमलों से आसपास के गांव के नागरीकों में बाघ की दहशत निर्माण हुई है. बाघ का बंदोबस्त करने की मांग गाववासीयों ने वनविभाग अधिकारीयों से की है. 

मृतक के परिवार को 15 लाख मुआवजा की मांग 

केमारा गांव के पास बाघ के हमले में मृतक सुजत के परिवार को 15 लाख रूपये का मुआवजा व परिवार के एक सदस्य को वनविभाग में नोकरी देने की मांग केमारा गांववासीयों ने की है.