WATER

    • अब तहसीलवासीयों को मिलेगा 24 घंटा पानी: नगराध्यक्ष भोयर   

    मूल. जलसंकट समस्या दूर कर तहसीलवासियों को उचित जल मिलने के उद्देश से 28.88 करोड रूपए लागत की विस्तारित जलापूर्ति योजना मंजुर की गई. यह कार्य प्रगती पर है इस योजना का कार्य अब अंतिम छोर पर है. जिससे आनेवाले समय में नागरीकों को पाणी की किल्लत का सामना नही करना पडेगा ऐसी जानकारी नगराध्यक्ष रत्नमाला भोयर ने पत्रकार परिषद दी. 

    उन्होने आगे बताया, मूल नगर परिषद क्षेत्र के विधायक तथा पूर्व वित्तमंत्री  सुधीर मुनगंटीवार के कार्यक्षेत्र में आने से शहर के विचार हेतु मुनगंटीवार ने विविध योजना अंतर्गत आजतक करोडों का नीधि नगर परिषद को मिला है. विधायक मुनगंटीवार के सहयोग से मूल शहर में जा रहे मुख्य महामार्ग का कायाकल्प हुआ है. स्व. कन्नमवार सांस्कृतिक सभागार, डा. शामाप्रसाद मुखर्जी वाचनालय इको पार्क, प्रशासकीय इमारत, पंचायत समिति भवन व क्रिडा संकुल निर्माण होने की जानकारी दी.

    तहसील के गांव का विकास के साथ_साथ मूल शहर का विकास करने के लिए सुधीर मुनगंटीवार ने वित्तमंत्री कार्यकाल के दौरान नीधि दिया. 2.99 करोड के विशेष अनुदान में से शहर के कुल 12 ओपन स्पेस विकसीत किया गया. रिकेशन एक्टीव्हीटी सेंटर, अग्नीशमन विभाग का मजबूतीकरण के लिए फायर स्टेशन का निर्माण, विशेष नीधि अंतर्गत स्कूल का निर्माण, साप्ताहीक बाजार का विकास, पुराना रंगमंच में व्यापारी संकुल का निर्माण, वैशिष्टपूर्ण नीधि अंतर्गत नगर परिषद के तीन मजली इमारत का निर्माण, क्रिडा संकुल में योगा केंद्र की निर्मिती की गई. 5 करोड रूपए के जनउपयोगी विकास कार्य प्रस्तावित होने की जानकारी भोयर ने दी. इस संदर्भ में सुधीर मुनगंटीवार का आभार माना. 

    28.88 करोड के विस्तारीत जलापूर्ति येाजना के बारे में नगराध्यक्ष ने पहले मूल शहर में 2156 नल को 15 लीटर की पाणी जलापूर्ति होती है. हाल ही में मूल शहर में 4631 नल निर्माण होकर 40 लाख लीटर के पाणी की आवश्यकता है. अब इस योजना अंतर्गत जलापूर्ति हो रही है. शहर के 90 प्रश घरों को मीटर लगाए गए.

    10 प्रश मकानेां को मिटर लगाने का कार्य पूर्ण होने पर नागरीकों केा सातों दिनों में 24 घंटे पाणी उपलब्ध होने की जानकारी दी. विस्तारित जलापूर्ति योजना के कार्य करते समय मूल नगर पालिका ने राज्य के कुल 15 नगरपालिका की तुलना में पहला क्रमांक प्राप्त करने की जानकारी नगराध्यक्ष भोयर ने दी. इस समय उपाध्यक्ष नंदकिशोर रणदिवे, निर्माण सभापति प्रशांत समर्थ, जलापूर्ति सभापति अनिल साखकर, शिक्षण सभापति मिलींद खोब्रागडे आदि उपस्थित थे.