corona

  • बिना मास्क नागरीकों का मुक्त संचार

भद्रावती. प्रशासन द्वारा लाकडाऊन में कुछ हद तक छुट दिए जाने से नागरीक बिना मास्क सडक व बाजार में घुमते हुए नजर आ रहे है. जिससे कोरोना का संक्रमण बढने का धोका निर्माण हो रहा है. इस वजह से शहर में पुन: जनता कर्फ्यु लगाने पर स्थानिक प्रशासन पुनर्विचार कर रही है. 

भद्रावती शहर में अबतक 1030 कोरोना बाधित सामने आए है. अबतक भद्रावती शहर में 13 बाधितों की मृत्यु हुई है. प्रशासन ने अब मंदिर से लेकर सार्वजनिक स्थल शुरू किए है. व्यापारीयों को पूर्ण समय दुकान खुले रखने की छुट दी है. दुकानों में नागरीकों में सामाजिक दूरी व मास्क का इस्तेमाल करने की सूचना प्रशासन द्वारा दी जा रही है. परंतु मेडीकल व अस्पताल को छोडकर कही पर भी सैनिटायजर व मास्क का उपयोग करते दिखाई नही दे रहे है. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की संभावना प्रशासन व शासन द्वारा जताई जा रही है. कोरोना के दौरान प्रशासन व शासन के नियमों को ताकपर रखकर भद्रावती शहर में लोगों की सडक व दुकानों में भीड जुटी है. जिससे कोरेाना संक्रमण का भय अधिक है. 

सर्वाधिक व्यापारी वर्ग कोरोना की चपेट में  

दिवाली त्योहार में राशन, मिठाई, तथा अन्य व्यापारीयों की दुकानों में नागरीकों की भीड बडी संख्या में दिखाई दी. दुकान में व्यापारीयों को मास्क इस्तेमाल करने का नियम लगाया है. परंतु व्यापारी वर्ग द्वारा नियमों की अनदेखी करने से कोरोना संक्रमण फैलने का भय अधिक है. शहर में कोरोना संक्रमण की चपेट में सर्वाधिक व्यापारी वर्ग होने की जानकारी सामने आयी है.  

वर्णा पुन: लगाना होगा जनता कर्फ्यु  – नगराध्यक्ष धानोरकर 

तहसील के नागरीक व व्यापारीयों द्वारा प्रशासन के नियमों का उल्लंघन करने से कोरोना संक्रमण का भय निर्माण हो रहा है. नियमों पर अंमल कर पालिका को सहयोग करने का आह्वान किया है. अन्यथा पुन: जनता कर्फ्यु लगाने का इशारा नपा अध्यक्ष अनिल धानोरकर ने दी है. – अनिल धानोरकर, नगराध्यक्ष, नप भद्रावती.