2 घरों के बीच मादा तेंदुए का डेरा, हमले में वन रक्षक सहित 2 घायल

    तलोधी बा./नागभीड़. नागभीड़ वन परिक्षेत्र अंतर्गत पान्होली गांव के 2 घरों के बीच में एक मादा तेंदुए ने डेरा डाल दिया. रात के समय घर से बाहर निकले युवक सुधीर गुरपुड़े (30) पर तेंदुए ने हमला कर उसे घायल कर दिया. सूचना के आधार पर उसे पिंजरे में कैद करने का प्रयास शुरू किया गया.

    इस दौरान तेंदुए के हमले में वनरक्षक राहुल वघारे भी घायल हो गए. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. सुधीर की हालत गंभीर होने से उसे जिला अस्पताल चंद्रपुर रेफर किया गया. घटना शुक्रवार की रात में हुई.

    शावकों को खोज रही मां

    शुक्रवार को गांव में तेंदुआ घुसा होने की सूचना के आधार पर वन परिक्षेत्र अधिकारी महेश गायकवाड़ अपने दल के साथ गांव में पहुंचे. उनके साथ झेप निसर्ग मित्र संस्था के उपाध्यक्ष अमोल वानखेड़े, क्षितिज गरमड़े पहुंच गए. वन विभाग की टीम ने तेंदुए को पिंजरे में कैद करने आपरेशन शुरू किया. इस दौरान तेंदुए ने वनरक्षक वगारे पर हमला किया. उन्हें नागभीड़ ग्रामीण अस्पताल में दाखिल किया गया.

    बताया जाता है कि पिछले दिनों एक ग्रामीण को सफाई के दौरान तेंदुए के 2 शावक दिखाई दिए थे. इसकी सूचना वन विभाग को दी गई. वन विभाग की टीम ने दोनों शावकों को पिंजरे में कैद कर लिया था. उन्हीं शावकों की मां मादा तेंदुआ पिछले कई दिनों से परिसर में देखी जा रही है. कैद किए शावक एक से डेढ़ महीने के है. संभावना है कि शावकों के नहीं दिखाई देने से मादा तेंदुआ आक्रमक हो गई है.