Found body of love immersed in river on third day

पृथ्वीराज आसुटकर और प्रचल वानखेडे के शव रविवार की सुबह ही मिल गये थे।

चंद्रपुर. घुग्घुस के वर्धा नदी के चिंचोली घाट में डूबे तीसरे बालक प्रेम गेडाम का शव आज सोमवार की सुबह राहत दल और गोताखोरों ने तलाश लिया है। पृथ्वीराज आसुटकर और प्रचल वानखेडे के शव रविवार की सुबह ही मिल गये थे। इसके साथ ही राहत दल ने तीनों शव तलाशने में सफलता प्राप्त की है।

शनिवार की सुबह अमराई वार्ड निवासी 2 युवक और 3 बालक वर्धा नदी के चिंचोली घाट पर तैरने के लिए गये थे। किंतु तीन बालक नदी में डूब गये थे। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस और गोताखोरों ने उनकी तलाश शुरु की। किंतु जल्द रात हो जाने से उन्हे सफलता नहीं मिली और दूसरे एक शव डूबने वाली जगह के पास और दूसरे का लगभग एक से डेढ किमी दूरी पर मिला है। किंतु प्रेम गेडाम का शव रविवार की देर शाम तक नहीं मिला था। अंधेरा हो जाने उसकी तलाश रोक दी। आज सुबह ही उसका शव घटनास्थल से कुछ दूरी नदी में तैरता दिखाई दिया। पुलिस ने शव को बाहर निकाल उसका पंचनामा बना पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।