Rain in Chandrapur

चंद्रपुर. लगभग पखवाडे भर बाद आज चंद्रपुर जिले भर में लौटते मानसून की बरसात हुई। सुबह के समय पर जोरदार बरसात के साथ दिन भर कम अधिक होती रही। जिन फसलों को सिंचाई की आवश्यकता थी वे किसान खुश हुये तो कुछ फसल तैयार हो गई है तो वह किसान चिंता में पड गये है।

सितंबर मध्य के उपरांत आसमान में बादलों की जमकर गर्जनाएं होती थी परंतु मात्र दस से बीस मिनट की हलकी बारिश होने के बाद मौसम साफ हो जाता था। पिछले पखवाडे भर से तो बारिश नहीं हुई। विगत दो दिनों से अक्टूबर हीट की स्थिति निर्माण हो गई थी। मंगलवार की शाम को महानगर में हल्की बूंदाबांदी हुई और मौसम साफ हो गया। परंतु महानगर समेत बल्लारपुर, राजुरा, गोंडपिपरी में सुबह 9.30 बजे के बाद से बादलों की गर्जना के साथ जोरदार बारिश शुरू हो गई।

शुरूआत में बारिश का प्रमाण तेज था उसके बाद हलका पड़ गया। बीच बीच में रूकने के बाद फिर से बारिश होने लगी। दोपहर के समय आसमान में काले काले बादल छा गये जिससे दोपहर में वाहनों के हेडलाईट जलाना पडा। बारिश का अनुमान न लगा सके लोग ऐसे ही निकल गये थे जिससे उन्हे तकलीफों का सामना करना पडा।

इस समय सोयाबीन और कपास तुड़ाई का काम शुरू हो चुका है। इससे किसानों को फसल के नुकसान का अंदेशा है। बारिश के कारण कपास, सोयाबीन समेत अन्य फसल प्रभावित हुई है। कपास की गांठ गीली होने से उसकी क्वालिटी पर असर पडता है और उचित कीमत नहीं मिलती है।