साप्ताहिक बाजार की जगह अवैध गोडाऊन का निर्माण

  • शंकरपुर माडेल ग्रापं का मनमानी व्यवहार
  • बेरोजगार के बजाय धनवान को गोडाऊन का वितरण

शंकरपुर. शंकरपुर के साप्ताहिक बाजार की जगह पर परिसर के कई नागरिकेां ने स्वयं के सामान रखकर अतिक्रमण किया है. जिससे साप्ताहिक बाजार के दुकानदारों को बैठने के लिए दिक्कतें निर्माण हो रही है. इस संदर्भ में कार्रवाई करने के बजाय ग्रापं प्रशासन धनवान लोगों का साथ देकर मनमानी व्यवहार करने का आरोप लगाया जा रहा है. इस संदर्भ ग्रापं सदस्यों ने चिमुर पंस के संवर्ग विकास अधिकारी को निवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है. 

शंकरपुर में मॉडेल ग्रामपंचायत प्रशासन ने नियमों को ताक पर रखकर एक व्यापारी को घर के सामने साप्ताहित बाजार के ओटे पर टिन के पक्के गोडाऊन का निर्माण कराया जा रहा है. इस संदर्भ में ग्रामपंचायत ने सरपंच व सचिव को निर्माण के प्रस्ताव के बारे में तथा इस्टीमेट पर पुछताछ कीए जाने पर जवाब देने में टालमटोल किया जा रहा है. 

ग्रापं कर्मचारी व पदाधिकारीयों ने गरीब सुशक्षिति बेरोजगारों के बजाय धनवान व्यापारीयों को अवैध तौर पर गोडाऊन का निर्माण करवाने का आरोप निवेदन में किया है. 

शंकरपुर के साप्ताहिक बाजार परिसर के 30 से 35 गांव के नागरिक व किसान खेतमाल को बेचने तथा खरेदी करने के लिए सोमवार के साप्ताहित बाजार में आते है. इस साप्ताहिक बाजार में 52 ओटे है जिनमें से अधिकतर ओटों पर आसपास के निवासित लोगों ने स्वयं के सामान रखकर ओटे पर अतिक्रमण किया है. जिससे अन्य दुकानदारों को बैठने के लिए दिक्कतों का सामना करना पड रहा है. इस संदर्भ में ओटों पर अतिक्रमण निकालकर बाजार के ओटो की जगह स्थायी रखने की मांग की जा रही है. अन्यथा तीव्र आंदोलन करने का इशारा ग्रापं सदस्य गोकुल सावरकर, पुर्व ग्रापं सदस्य प्रफुल डांगे ने निवेदन के माध्यम से दिया है.