Corona Death 01
File Photo : PTI

  • पूर्व सांसद पुगलिया की मुख्यमंत्री व स्वास्थमंत्री से मांग

चंद्रपुर. जिले व सम्पूर्ण राज्य में कोरोना के संकट के चलते बाधितों में बेतहाशा वृध्दी हो रही है व समय पर बाधितों को उपचार नहीं मिलने से मृत्युदर में वृध्दी हो रही है। कई डाक्टर व संबंधित कर्मियों में कोरोना का संक्रमण फैल रहा है। इस संकट पर नियंत्रण पाने के लिए कोरेाना योध्दाओं को दी जानेवाले सुविधाओं के नियमों में बडी पैमाने में बदलाव करने की आवश्यकता है। इस संदर्भ में मुख्यमंत्री और स्वास्थ मंत्री से आगे आकर उचित निर्णय लिए जाने मांग पूर्व सांसद तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नरेश पुगलिया ने मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे के पास की है।

कोरेाना की स्थिति पर अंकुश पाने के लिए लगनेवाले खर्च 50 प्रतिशत उद्योग व 50 प्रतिशत जिला खनिज विकास निधि से किए जाने तथा योजना की शुरूवात चंद्रपुर जिले के औद्योगिक क्षेत्र से करने की बात उन्होंने कही है। पूर्व सांसद पुगलिया ने सीएम को भेजे निवेदन में बताया कि, चंद्रपुर जिले को तत्काल 200 ऑक्सीजन बेड की आवश्यकता है। शासकीय अस्पताल व मेडिकल कालेज में फिलहाल 160 बेड फुल है। मरीजों को बेड के लिए निजी अस्पताल अथवा जिले के बाहर जाना पड रहा है इसपर तुरंत रोक लगाये।

जिला सरकारी अस्पताल में  कम से कम 15 फिजिशियन डाक्टर की आवश्यकता है। फिलहाल अस्पताल में 4 डाक्टर कार्यरत है। सरकारी अस्पताल के डाक्टर नौकरी छोडकर जा रहे है। जान की जोखिम तथा कम वेतन होने से कोविड विभाग में कार्यरत डाक्टर तथा अन्य कर्मचारियों को दुगना वेतन तथा बीमा येाजना का लाभ दिया जाए।

जिले में बडे उद्योग भव्य कोविड19 सेंटर का जिलास्तर पर निर्माण करे। महामारी पर नियंत्रण पाने के लिए जिले के कोरोना बाधित मरिजों पर उपचार करने की आधुनिक सामूहिक  व्यवस्था करे व उसमें आईएमए का सहयोग ले।

संबंधित बाधित कोरोना पाजिटिव है परंतु उनमे किसी तरह के लक्षण नही ऐसे लोगों को होम आयशोलेशन करने हेतु डाक्टरों से निशुल्क अनुमति पत्र दिया जाए व उन्हे दवाईया मुहैया करायी जाए। भरती हुए पेशंट को मेडिसीन व भोजन की व्यवस्था में बदलाव करने, कोरेाना मरिजों की जानकारी हेतु प्रत्येक कोविड अस्पताल में सूचना कक्ष का निर्माण करने, एडमिट कोरोना बाधितों को ऑक्सीजन  की कमी ना हो इसलिए स्वास्थ प्रशासन सावधानी बरते व ऑक्सीजन प्लांट की निर्मिती तुरंत किए जाने, कोरोना टेस्ट के पश्चात पाजिटिव व निगेटिव की टेस्ट रिपोर्ट तुरंत दिए जाने की मांग पूर्व सांसद नरेश पुगलिया ने मुख्यमंत्री ठाकरे व स्वास्थ मंत्री से पत्र के माध्यम से की है।