strike

पोंभूर्णा. तहसील का आदर्श गांव के तौर पर घाटकुल गांव को जाना जाता है. यहां के ग्रामरोजगार सेवक कुद्रपवार ने रोगायो अंतर्गत वर्ष 2017 से 2020 के दौरान कई षडयंत्र रचकर परिवार समेत कईयों को बोगस मजदूर बताकर सरकार की राशी हडप कर ली. इस भ्रष्टाचार की जांच कर अपराध दर्ज करने की मांग घाटकुलवासीयों ने पालकमंत्री, रोगायों मंत्री, जिलाधीश समक्ष सौपे गए ज्ञापन में की है. अन्यथा तिव्र बेमीयादी अनशन करने का इशार दिया गया है. 

रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत नहर का गहराईकरण, पगदंडी व अंगणवाडी इमारत ऐसे कई कार्य किए जाते है. जिसमें ग्रामरोजगार सेवक के 18 वर्षीय बेटा तथा बेटी यह चंद्रपुर में शिक्षा ले रही है. उनकी पत्नी व बहन घर के बाहर कभी मजदूरी के लिए नही जाने के बावजुद रोगायों मस्टर पर मजदूर के तौर पर उपस्थित दर्शायी गई है. साथ ही राशी को हडप कर लिया है.

गांव के कई लोगों को बोगस मजदूर दर्शाकर भ्रष्टचार किए जाने की जानकारी गांववासीयों ने ज्ञापन में दी है.  इस संदर्भ में कार्य तथा रेकार्ड की जांच कीए जाने तथा इसके लिए जिम्मेदार व्यक्ति पर उचीत कार्रवाई करने की मांग की है. अन्यथा तिव्र बेमीयादी अनशन किए जाने का इशारा दिया है.