1 week public curfew in Sironcha

बल्लारपुर. चंद्रपुर जिले में 25 सितंबर से 1 अक्टूबर तक जनता कार्फ्यू लागू किया गया है। किंतु नागरिकों की लापरवाही और पुलिस प्रशासन की अनदेखी के चलते जनता कर्फ्यू शो पीस बनकर रह गया है। अति आवश्यक सेवा देने वाले प्रतिष्ठान के नाम पर सुबह लगने वाली नास्ते की रेहडी तथा चाय टपरी रोजमर्रा की भांति हर सुबह खुल रही है। मात्र किराना, सब्जी व अन्य प्रतिष्ठान नियम का पालन करते देखे जा रहे है। पुलिस विभाग कर्तव्य के नाम पर रोज संध्या नगर परिषद चौक पर वाहनों से आते जाते नागरिकों के मास्क जांच कर रहा है।

जनता कर्फ्यू के दौरान किराना, सब्जी व अन्य प्रतिष्ठान बंद रहने से वहां लगने वाली नागरिकों की भीड नदारद है। किंतु सैर सपाटे हेतु वाहनों से निकलने वाले युवा हर चौराहे पर अवैध शराब बिक्री करते, शराब तस्कर व ग्राहक दिन भर नजर आते है। नये पुलिस अधीक्षक के पदभार संभालने के पश्चात नागरिकों को विश्वास था कि भले ही कुछ दिन सही नये एसपी आने के बाद अवैध शराब बिक्री पर अंकुश लगेगा। किंतु ढाक के तीन पात वाली कहावत चरितार्थ हो रही है। जिला प्रशासन कोरोना की श्रृंखला को तोडने हेतु जनता कर्फ्यू तो दिया है। परंतु उसका क्रियान्वयन सही ढंग से हो रहा अथवा नहीं इसकी समीक्षा नहीं की जा रही है।