6 suspended including civil surgeon in Bhandara fire case

  • मनसे पदाधिकारी व अधिष्ठाता की बैठक 

चंद्रपुर. भंडारा में जिला सरकारी अस्पताल के अतिदक्षता विभाग के नवजात शिशु केअर युनिट को आग लगने से 10 नवजात शिशुओं की दर्दनाक मौत हो गई. प्राथमिक जांच में सदोष इनक्युबेटर जिम्मेदार है. इस तरह की घटनाओं को टालने हेतु मनसे पदाधिकारीयों ने जीएमसी अधिष्ठाता डा. हुमने से भेट कर तकनिकी सूचनाओं का ज्ञापन सौपा.  

ज्ञापन में शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय में आयसीयु बेबी केअर युनिट यंत्रणा, विद्युत मेडिकल साधनों के स्थिति के बारे जानकारी ली. आयसीयु व बेबी केअर युनिट को तत्काल अपडेट करने तथा कुछ उपाययोजना की जानकारी मनपा पार्षद सचिन भोयर ने दी. आयसीयु व नवजात शिशु केअर युनिट का तत्काल फायर ऑडिट कर उसकी जांच करते हुए तत्काल कार्यान्वित किए जाने, शिशु केअर युनिट को आपातकालिन फायर एक्झिट रखे जाने, आयसीयू व शिशु केअर युनिट को संपूर्ण बिजली आपूर्ति करनेवाली वायरिंग उच्च दर्जे की होने, नए से 3फेज आरसीसीबी लगाने, आयसीयु व नवजात शिशु केअर युनिट में इस्तेमाल किए जानेवाले स्वयंचलित बिजली के साधनों की नामांकित एजन्सी से जांच किए जाने, साधनों की नियमित जांच करने, 24 घंटे नवजात शिशु केअर युनिट को निगरानी में रखे जाने, रात को कर्मचारी अथवा नर्स विभाग में रखने, 24 घंटे टेक्निशियन, इलेक्ट्रिशियन तथा प्रशिक्षित फायर फायटर नियुक्त करने, आपतकालिन हाय पावर स्मोक एक्झास्ट फैन लगाने, आपातकाल परिस्थिति का प्रशिक्षण कर्मचारीयों को देने की मांग की ज्ञापन में की गई. 

इस समय महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना जिलाध्यक्ष दिलीप रामेडवार, जिला उपाध्यक्ष सचिन भोयर, महिला सेना जिलाध्यक्ष सुनीता गायकवाड, वाहतूक सेना जिलाध्यक्ष भारत गुप्ता, राजू बघेल, माया मेश्राम, महिला शहरअध्यक्षा प्रतिमा ठाकुर, बलीराम शिंदे, असलम शेख, नितीन भोयर, राकेश पराडकर, सुयोग धवलकर, स्वप्निल चहारे, शुभम सिंग, समीर शेख, मनिष दास आदि मनसे सैनिक उपस्थित थे.