MNS started Viru movement

जिले के रेती घाटों की नीलामी न किये जाने के बावजूद रेती तस्कर दिन रात अवैध रेती उत्खनन और परिवहन कर रहे है।

  • रेती तस्करी रोकने की मांग 

वरोरा. जिले के रेती घाटों की नीलामी न किये जाने के बावजूद रेती तस्कर दिन रात अवैध रेती उत्खनन और परिवहन कर रहे है। इसी प्रकार वरोरा के वर्धा नदी किनारे रेती उत्खनन के कारण एक गड्ढे में एक चरवाहे की मृत्यु हो गई। इसलिए रेती तस्करी रोकने की मांग मनसे ने की थी। किंतु इस ओर ध्यान न दिये जने से आज मनसे के तहसील अध्यक्ष वैभव डहाणे ने तहसील कार्यालय के टावर पर चढकर वीरु आंदोलन शुरु किया है। इससे प्रशासन में हडकंप मच गया है।

विसापुर के गड्ढे में डूबे से 5 किशोर

रेती घाटों से अवैध रुप से पोकलेन मशीन से रेती खुदाई किये जाने से बडे बडे गड्ढे हो जाते है जिससे पानी भरने से गहराई का अनुमान नहीं लगता है। इसी प्रकार के गड्ढे में चरवाहे की मृत्यु हो गई थी। कुछ वर्षो पूर्व वर्धा नदी किनारे ही बल्लारपुर तहसील के विसापुर में इसी प्रकार बने गड्ढे में नहाने गये 5 किशोरों की डूबने से मृत्यु हो गई थी। किंतु राजस्व विभाग कोई ध्यान नहीं दे रहा है। इसलिए आज डहाणे ने टावर में वीरुगिरी शुरु की है।

ठोस आश्वासन के बाद टावर से उतरने की चेतावनी

वरोरा में चरवाहे की मृत्यु के पश्चात मनसे ने एसडीओ, तहसीलदार और थानेदार को निवेदन देकर रेती तस्करी रोक सरकारी राजस्व बचाने की मांग की थी। इसके बावजूद इस ओर ध्यान न दिये जाने से आज मनसे ने आंदोलन शुरु किया और जब तक ठोस आश्वासन नहीं मिलता आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी है।