child
File Pic

    चंद्रपुर.  महिला विकास मंडल द्वारा संचालित किलबिल प्राथमिक बालगृह दत्तक संस्था चंद्रपुर में अंकुर नामक बालक को दत्तक मुक्त घोषित किया जाएगा. अंकुर के अभिभावकों की तलाश की गई परंतु कोई सामने नहीं आया है, सात दिनों के भीतर यदि उसपर किसी ने दावा नहीं किया तो उसे दत्तक मुक्त घोषित किया जाएगा ऐसी जानकारी जिला बाल संरक्षण अधिकारी अजय साखरकर ने दी है.

    शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय एवं अस्पताल चंद्रपुर के एनएससीयू वार्ड में तीन दिन के नवजात बालक को 2 नवंबर 2019 को उपचार के लिए भरती किया गया था. बालक की हालत में सुधार होने के बाद उसे 11 नवंबर 2019 को डिस्चार्ज दियाग या. परंतु बच्चे की मां ने बच्चे के पालनपोषण में असमर्थता दर्शाने के कारण बाल कल्याण समिति ने उक्त बच्चे का नाम अंकुर रखा और महिला विकास मंडल द्वारा संचालित किलबिल प्राथमिक बालगृह में उसे रखा गया है.

    संबंधित बालक की मां सात दिनों भीतर बाल कल्याण समिति चंद्रपुर, शासकीय बाल निरीक्षण गृह, बालगृह, डा. राजेद्र अल्लूरवार बिल्डिंग सी-18 शास्त्रीनगर, या जिला बाल संरक्षण कक्ष द्वारा जिला महिला एवं बालविकास अधिकारी कार्यालय, पुराना कलेक्टर बंगला जिला स्टेडियम के पास चंद्रपुर या किलबिल प्राथमिक बालगृह दत्तक संस्था, डा. मुठाल के पुराने दवाखाने के पास रामनगर में संपर्क नहीं करती है तो बाल कल्याण समिति चंद्रपुर उस बच्चे को दत्तक मुक्त घोषित करेंगी और किलबिल संस्था दत्तक देने की प्रक्रिया की शुरूआत करेंगी.