जिले में वन स्टाप क्राईसेस सेंटर योजना का शुभारंभ

  • संकटग्रस्त महिलाओं की सहाय्यक संस्था को सुनहरा अवसर
  • जिला महिला व बालविकास विभाग का आवाहन

चंद्रपुर. जिले के संकटग्रस्त महिलाओं को तत्काल सहायता मिलने हेतु केंद्र सरकार पुरस्कृत वन स्टाप क्राईसेस सेंटर योजना चंद्रपुर में शुरू की जा रही है. वन स्टॉप सेंटर योजना की मार्गदर्शिका में इम्प्लिमेंटींग एजन्सी के नियुक्ती का उल्लेख किया गया. इम्प्लिमेंटींग एजन्सी को योजना में महिलाओं को प्रशिक्षण देना, कर्मचारी क्षमता निर्माण करना, तकनिकी सहायता करना आदि कार्य एजन्सी के रहेंगे. 

योजना के नियम व शर्त 
योजना प्रबंधन समिति के निर्देशानुसार इम्प्लिमेंटींग एजन्सी को कार्यवाही करनी पडती है. समिति के निर्देश पर कामकाज नही करने पर एजन्सी की सेवा बंद की जायेगी. इम्प्लिमेंटींग एजन्सी के लिए आवेदन करनेवाली संस्था को अन्यायग्रस्त, संकटग्रस्त, पिडित महिलाओं के हितों में कार्य करने का 3 वर्ष का अनुभावन होना आवश्य है. ऐसी संस्था ही आवेदन कर पायेगी. इस समय 10 मीनट की पेशकश पेश करनी होगी. इम्प्लिमेंटींग एजन्सी के लिए आवेदन करनेवाले संस्था के सभी पदाधिकारीयों को मंजुर किया हुआ प्रस्ताव जोडना हेागा. इसके लिए शर्त व नियमों का पालन करने संबंधी 100 के स्टैंम्प पेपर पर पत्र पेश करना आवश्यक है. 

आवेदन करनेवाली संस्था (अ.) संस्था पंजीबध्द अधिनियम 1860 (ब) सार्वजनिक विश्वस्त अधिनियम 1950 अंतर्गत पंजीबध्द होना आवश्यक है. संस्था का नाम काली सुची में नही होने का धर्मादाय आयुक्त कार्यालय का प्रमाणपत्र आवश्यक है. संबंधित संस्था जिलाअंतर्गत पंजीबध्द होना आवश्यक है. इम्प्लिमेंटींग एजन्सी के लिए नियुक्त हुए संस्था व पदाधिकारीयों का पुलिस विभाग से चरित्र प्रमाणपत्र प्राप्त किया जायेगा. संबंधित पदाधिकारी पर फौजदारी अथवा अन्य प्रकार का अपराध दर्ज पाए जाने पर संस्था की नियुक्ति रद्द की जायेगी. 

आवेदन विज्ञापन प्रकाशित होने के पश्चात 7 दिनों के भीतर जिला महिला व बाल विकास अधिकारी चंद्रपुर, पुराना कलेक्टर बंगला, आकाशवाणी केंद्र के पिछे, सिव्हिल लाईन, चंद्रपुर यहां पेश करे. विलम्ब से आए आवेदन पत्रों का विचार नही किया जायेगा.