Vijay Wadettiwar

    चंद्रपुर: जिले में कोरेाना प्रभावितों की संख्या बढ रही है. संभावित परिस्थिति को देखते हुए मरीजों के उपचार के लिए सभी कोविड केअर सेंटर पर पर्याप्त औषधि भंडार उपलब्ध रखा जाए, साथ ही आवश्यकता होने पर बाधित मरीजों के लिए निजी क्षेत्र के अस्पताल से आवश्यक बेड की पूर्ति कर कोरोना मरीजों के प्रबंधन की ओर ध्यान देने के निर्देश पालकमंत्री विजय वडेट्टीवार ने आज ऑनलाईन प्रणाली द्वारा जिला प्रशासन को दिए.

    कोरोना उपाययोजना की समीक्षा साथ ही जिला खेल स्टेडियम के कार्यों की समीक्षा पालकमत्री विजय वडेट्टीवार ने विडिओ कान्फरन्स द्वारा मुंबई से की. इस समय विधायक किशोर जोरगेवार, जिलाधिकारी अजय गुल्हाने, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल कर्डिले, महानगर पालिका के आयुक्त राजेश मोहिते, अपर जिलाधिकारी विद्युत वरखेडकर शासकीय वैद्यकीय अस्पताल के अधिष्ठाता डा. अरूण हुमने, जिला शल्य चिकित्सक डा. निवृत्ति राठोड, जिला टीकाकरण अधिकारी डा. संदीप गेडाम, खेल अधिकारी विनोद ठिकरे आदि जिलाधिकारी कार्यालय के बीस सूत्री सभागार बैठक में उपस्थित थे. 

    पालकमंत्री ने आगे कहा कि कोरोना प्रतिबंध के लिए बाधितों के संपर्क में आनेवाले नागरिकों की शीघ्र खोज कर जांच का प्रमाण साथ ही उपलब्ध टीका भंडारण अनुसार टीकाकरण की गति बढाने की आवश्यकता है.

    जिलाधिकारी अजय गुल्हाने ने बताया कि कोरोना प्रतिबंध के लिए विभिन्न सुपर स्प्रेडर के 39 गट बनाकर जांच की जा रही है. साथ ही मेरा कार्यक्षेत्र मेरी जिम्मेदारी मुहिम जिले में चलायी जारही है अन्य उपाययोजना के बारे में उन्होने जानकारी दी.

    जिला खेल स्टेडियम शीघ्र पूरा करने के निर्देश

    पालकमंत्री ने इस समय जिला खेल स्टेडियम के काम की समीक्षा की. स्टेडिरूम नये स्वरूप में बनकर तैयार हो रहा है. फुटबाल मैदान, 400 मी. सिथेटिंक ट्रैक, प्रसाधनगृह का काम शीघ्र पूरा करने के निर्देश उन्होने दिए. साथ ही यहां इंडोर गेम शुरू करने की व्यवस्था, संरक्षक दीवार के समीपस्थ व्यापारिक संकूल बनाया जा सकता है या नहीं इस पर ध्यान देने को कहा.

    बैठक में पुलिस उपअधीक्षक शेखर देशमुख, शिक्षणाधिकारी उल्हास नरड (माध्यमिक), दीपेंद्र लोखंडे (प्राथमिक), सार्वजनिक निर्माणकार्य विभाग के उपअभियंता एस.डी. मेंढे, राजेश नायडू, कुंदन नायडू, डा. कीर्तिवर्धन दीक्षित एवं संबंधित विभाग के अधिकारी आदि उपस्थित थे.