लक्ष्मी पूजन की तैयारी में जुटे लोग, वस्तुओं की खरीदारी के लिए उमड़ी भीड़

  • लोगों से गायब हुआ का डर
  • सजी मिठाई व ड्रायफ्रुट की दूकाने

चंद्रपुर. 5 दिन चलनेवाले दीपावली पर्व के लक्ष्मीपूजन के लिए नई वस्तु, पूजा सामुग्री आदि की खरीदारी के लिए शहर के मुख्य गांधी चौक, मेन रोड, कस्तुरबा रोड पर नागरीकों की भीड उमड़ पडी है। हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी लोगों को महंगाई के असर का सामना करना पड रहा है। दीपावली पर्व के साजसज्जा, व्यंजन समेत हर चीज के दाम आसमान छूने से लोगों का पसीना छूट गया। बाजार में व सडकों पर भीड के चलते लोगों को आवागमन में काफी दिक्कतों का सामना करना पडा।

मिठाईयों में दूकानों में दिखी भीड

देश के कई हिस्सों में मिलावटी मिठाई की खबरों ने लोगों में दहशत में है। जिससे लोग खोवे से बनी मिठाई लेने के बजाय ड्रायफ्रुट खरीदने में अधिक उत्सुक दिखाई दे रहे थे। कोरेाना के बावजूद दीपावली त्योहार के लिए लोगों की मिठाईयों की दूकानों में भीड जुटी थी। कोरेाना के चलते सावधानी बरतने का आवाहन दूकानदार कर थे। परंतु भीड में कोरोना कहा गायब हो गया पता ही नहीं चल रहा था। कई लोग सूखा मेवा खरीदने में प्राथमिकता दे रहे है।

भीड, जाम से वाहनों की लगी कतार 

चंद्रपुर महानगर के मुख्य बाजार में गांधी मार्ग और कस्तूरबा मार्ग पर सजी दुकानों से मार्ग संकरा हो गया। गांधी चौक से जटपुरा गेट तक रोड के दोनों छोर पर भीड़ देखते ही बनती। इसी तरह कस्तूरबा मार्ग पर वसंत भवन से लेकर गिरनार चौक तक दुकानों के सामने खरीददारों की भीड़ जुटी है। गांधी चौक के बाजार में रौनक छायी हुई है. इसी तरह का नजारा यहां तुकूम परिसर और बंगाली कैम्प परिसर में भी देखा गया। शहर में शाम के समय भीड के चलते यातायात जाम रहा. वाहने कतारबध्द तरिके से जा रही थी.

पूजा साहित्य के दूकान सजे

पूजा की आवश्यक सामग्री, दीपों की दुकानों, लक्ष्मी की मूर्तियां, प्रसाद, गन्ना, फुलों की दुकानों समेत फटाखों की दुकानों में भीड़ के साथ बाजार में जहां तहां लोग नजर आ रहे थे. भीड़ के चलते यहां यातायात कर्मियों को यातायात सुचारू करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

धनतेरस पर खूब बिका सोना-चांदी

सुख समृध्दि, धन और ऐश्वर्य प्रदान करनेवाली देवी महालक्ष्मी का पर्व दीपावली का शुभारंभ शुक्रवार को धनतेरस से हुआ। धनतेरस के मौके पर स्वर्ण आभूषण खरीदी को देखते हुए यहां समूचे सराफा बाजार में खरीददारों की भीड़ दिखाई दी। ग्राहकों को लुभाने के लिए सराफा व्यापारियों  ने विशेष स्कीम एवं ऑफर रखा हुआ है। सभी ने अपने प्रतिष्ठानों को आकर्षक ढंग से सजाया था एवं ग्राहकों की सेवा में पूरी तत्परता दिखाते हुए नजर आये। स्वर्ण आभूषणों की तुलना में चांदी की बिक्री अधिक हुई। खरीददारों में महिलाओं का बड़ी संख्या में समावेश रहा।

उल्लेखनीय है कि हरवर्ष लोग धनतेरस के दिन से सपरिवार खरीदी का लाभ उठाते है, दीपावली पर्व को देखते हुए मुख्य गोल बाजार एवं मेन रोड, कस्तुरबा रोड स्थित मुख्य सामग्री मार्केट में आम दिनों की तुलना में भीड़ काफी दिखाई दे रही थी। यहां दीपावली पर्व को देखते हुए हर व्यक्ति को बोनस अथवा अन्य अतिरिक्त आय होने से भी उनका रूझान आवश्यक वस्त्र से लेकर अपनी सुविधायोग्य वस्तुओं की खरीदी की ओर था।

मान्यता के अनुसार धनतेरस के दिन सोने-चांदी के आभूषणों की खरीदी को शुभ माना जाता है इस दिन हर परिवार सोने-चांदी का कोई ना कोई आभूषण अवश्य ही खरीदता है. इसके कारण स्वर्ण आभूषण की खरीदी के साथ साथ अन्य खरीदी के लिए घर से निकले लोगों का हुजूम मुख्य गोल बाजार से लेकर गांधी मार्ग स्थित दुकानों में नजर आया।  इस वर्ष दुकानों को बेहद खूबसूरती से सजाया गया है जहां नागरिक  सहपरिवार खरीदी करते हुए दिखाई दे रहे है।

बाजार में भीड ना करें- जिलाधीश

दिवाली त्योहार को देखते हुए जिला प्रशासन ने दीपावली पर्व सादगी से मनाने का आवाहन किया है। दिवाली के पहले ही दिन बाजार में भीड को देखते हुए जिलाधीश अजय गुल्हाने ने भीड से दूर रहने का आवाहन किया है। सैनिटायजर व मास्क का उपयोग करने का आवाहन किया है।