Electricity

    चंद्रपुर. राजुरा तहसील की वर्धा नदी क्षेत्र अंतर्गत आसपास के गांवों की बिजली इन दिनों में बार-बार खंडित हो रही है. जिससे गांव की जनता त्रस्त है. खेती कार्य में रुकावट निर्माण हो रही है. इस संदर्भ में जिला कांग्रेस कमेटी के ओबीसी विभाग के अध्यक्ष उमाकांत धांडे ने उपअभियंता लोहे से चर्चा की. समस्या का जल्द से जल्द हल निकालने का आश्वासन लोहों ने उन्हें दिया.

    गोवरी में दिया गया है फीडर

    धांडे ने कहा कि संबंधित परिसर में उपकेंद्र नहीं होने से विरूर स्टेशन के सबस्टेशन से बिजली आपूर्ति होती है. इसके लिए गोवरी में फीडर दिया गया था. किंतु बिजली की मांग अधिक होने से बिजली का दबाव बढ़ गया है. जिससे बिजली पम्प जलना, बार-बार लाइट जाना जैसी घटनाएं अधिक हो रही है. कांग्रसे के माध्यम से पत्राचार के जरिए वरोडा में नया सबस्टेशन मंजूर हुआ.

    कुछ दिन पहले उसे कार्यन्वित किया गया. इसके बावजूद किसानों को बिजली आपूर्ति खंडित होने की समस्या झेलनी पड़ रही है. धांडे ने इस विषय पर राजुरा बिजली विभाग कार्यालय में उपअभियंता लोहे से चर्चा की. जैतापुर-नांदगांव क्षेत्र के लिए स्वतंत्र कनेक्शन देने के लिए आवश्यक तकनीकी बातें पूर्ण करने के लिए प्रस्ताव तैयार कर मंजूरी के लिए भेजे जाने की जानकारी धांडे को दी गई.