कार्यक्रम: राज्यमंत्री तनपुरे ने दिए निर्देश, जिवती तहसील में कीट वितरित, खावटी का लाभजरूरतमंदों तक पहुंचाएं

    चंद्रपुर. कोरोना वायरस के कारण निर्माण हुई आपातकालीन परिस्थिति में अनुसूचित जनजाति के परिवारों को आर्थिक सहायता देने के उद्देश्य से सानुग्रह अनुदान योजना चलाई जा रही है. इस योजना अंतर्गत प्रथम चरण में 50 प्रश अर्थात 2,000 रुपए सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते एवं शेष 50 प्रश अंतर्गत किराना स्वरूप में सानुग्रह किट दी जा रही है.

    योजना का लाभ उचित एवं जरूरतमंद आदिवासियों तक पहुंचाने के लिए आदिवासी विकास विभाग द्वारा गंभीरता से ध्यान देने के निर्देश आदिवासी विकास विभाग के राज्यमंत्री प्राजक्त तनपुरे ने दिए. जिवती तहसील के पाटण में खावटी अनुदान योजना अंतर्गत आदिवासी समाज के लोगों को किट वितरण कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही.

    आदिवासी समाज के लोगों को 2,000 का अनुदान

    राज्यमंत्री तनपुरे ने कहा कि अब कोरोना का संक्रमण कम हुआ है. प्रत्येक को इसका ध्यान रखना चाहिए. गांव-गांव में जाकर आदिवासियों की परेशानियों को जानने, साथ ही उन तक सानुग्रह अनुदान योजना का लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से कार्यक्रम लिए जा रहे हैं.

    योजना अंतर्गत प्रथम चरण में लाभार्थियों के बैंक खाते में 2,000 रुपए एवं दूसरे चरण में अनाज किट देने का निर्णय मंत्रिमंडल ने लिया है. जिन लाभार्थियों का चयन इस योजना के लिए हुआ है, उन्हें किट मिलनी चाहिए, अन्यथा कागजों पर नाम अलग और प्रत्यक्ष अनाज की किट दूसरे के पास यह नहीं होना चाहिए. इसके लिए विभाग के प्रकल्प अधिकारी गंभीरता से ध्यान दें.

    20,000 लोगों को मिलेगा लाभ

    चंद्रपुर प्रकल्प कार्यालय अंतर्गत जिले में लगभग 20,000 आदिवासी समाज के लोगों को योजना का लाभ मिलेगा. शेष बचे पात्र लाभार्थी अब भी इस योजना के लिए अपना नाम दर्ज करा सकते हैं. वे भी इस योजना का लाभ लें. राज्य की कुल निधि के खर्च में से आदिवासी विकास विभागावर 9.5 प्रश निधि खर्च की जाती है.

    विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे ने कहा कि आदिवासी विकास विभाग के जरिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं. इनमें भगवान बिरसा मुंडा किसान स्वावलंबन योजना, शबरी आवास योजना आदि का समावेश है. इसका लाभ लेने की अपील उन्होंने की. अतिथियों के हाथों सानु आत्राम, लैजू सिडाम, यशवंत पैकू उईके, सुरेश इसरू सोयाम, दशरथ भुरूजी मडावी, भीमराव जैतू मडावी, पग्गू राज आत्राम आदि 41 लोगों को सानुग्रह अनुदान योजना अंतर्गत किट का वितरण हुआ.

    आश्रमशाला परिसर में जलापूर्ति योजना का उद्घाटन किया गया. इस समय जिवती के पं.स. सभापति अंजना पवार, सहायक जिलाधिकारी रोहन घुगे, पाटन के सरपंच सुषमा मडावी, उपसरपंच भीमराव पवार, पूर्व जि.प. सदस्य भीमराव मडावी, राजेंद्र वैद्य आदि उपस्थित थे.

    किट में 12 वस्तुएं शामिल

    खावटी अनुदान योजना अंतर्गत दी जा रही किट में 12 वस्तुओं का समावेश किया गया है. इसमें मटकी, चवली, चना, बटाना, उड़द दाल, तुअर दाल, चीनी, सेंगदाने, तेल, गरम मसाला, मिर्च पावडर, नमक, चायपत्ती आदि का समावेश है. कार्यक्रम की प्रस्तावना प्रकल्प अधिकारी घुगे ने रखी. संचालन आश्रमशाला के मुख्याध्यापक वासुदेव राजपुरोहित ने किया. आभार सहायक पुलिस निरीक्षक सुनील बावणे ने माना.