सहयोगी के मदद के लिए एकजुट हुए अध्यापक

  • एक दिन में जमा किये 60 हजार

पोंभूर्णा. एकता में बड़ा बल होता है यह एक कहानी है किंतु इस कहानी को पोंभूर्णा के अध्यापकों ने सार्थक कर दिखाया है। एक सहयोगी शिक्षक दुर्घटना में घायल हो गया उसकी मदद के लिए सभी शिक्षकों ने मिलकर एक दिन में 60,000 रुपये की धनराशि एकत्रित कर चंद्रपुर के निजी हास्पिटल में दाखिल किया है।

 जिला परिषद भटारी के अध्यापक विनोद बावने कुछ दिनों पूर्व दुपहिया में सवार होकर शाला से पोंभूर्णा लौट रहे थे कि अचानक शूगर बढ़ जाने से वे दुपहिया से नियंत्रण हटने से गिरकर चोटिल हो गये। इस घटना में उनके सिर और चेहरे पर गंभीर चोट आई थी। उनके गंभीर घायल होने से वे बेड पर पडे थे और परिजनों रुपयों के इंतेजाम के लिए प्रयास कर रहे थे। यह ज्ञात होने पर सहयोगी अध्यापकों ने मिलकर महज एक दिन में 60,000 रुपये एकत्रित कर एकता और मानवता का उदाहरण रखा है।

 सुबह स्कूल पर पहुंचे बावणे सर स्कूल से अपने बाईक से लोटते समय शुगर की मात्रा बढने से चलाते गाडी से गिर पडे,उनके सिर पर और चेहरे पर गंभीर चोटे आई। ऐसे समय अध्यापक वर्ग की और से दिखाई गयी तत्परता,मानवियता की सभी तरफ प्रशंसा हो रही है।