अनलाक: संक्रमण को भूलकर नियमों की उड़ाई जा रही धज्जियां, साप्ताहित बाजार में उमड़ी भीड़

    चंद्रपुर. कोरोना की दूसरी लहर का प्रभाव कम होने के बाद सरकार व जिला प्रशासन ने जिले में अनलाक कर दिया है. अनलाक करते ही शहर में तो हर कोई बिंदास, बेझिजक, बिना किसी संक्रमण के भय के घूमता नजर आ रहा है. न किसी को पुलिस का धोस और न ही कोई प्रशासन की सख्ती नजर आ रही है. पहले पुलिस द्वारा जांच की जाती थी, लेकिन अब जांच भी नहीं करने से हर कोई नियमों का उल्लंघन करता नजर आ रहा है.

    पुलिस भी नहीं कर रही कार्रवाई

    पहले शहर के बाइपास चौक, बंगाली कैम्प, बांगला चौक, गिरनार चौक, गांधी चौक, जटपुरा गेट आदि परिसर क्षेत्रों में पुलिस बल तैनात रहता था. आने-जाने वाले वाहन चालक से पूछताछ की जाती थी. लेकिन अब यहां कोई कार्रवाई होती नजर नहीं आ ही है. जिले में अनलाक करने से सड़कों पर वाहनों व लोगों की भीड़ नजर आ रही है. जिससे संक्रमण फैलने का भय बढ़ गया है. शहर के जटपुरा गेट के पास कार्यालय में जाने के समय तथा छूटने के समय आवश्यक व अनावश्यक वाहनों की लम्बी कतारें लग रही हैं. सुबह के समय अधिकांश होटल व चायटपरी पर नाश्ता के लिए लोग उमड़ रहे हैं.

    शहर के गोलबाजार व गंजवार्ड में निर्धारित समय के बाद भी कुछ दूकानें शुरू रहती हैं. जिससे शाम तक बाजार से लोगों की भीड़ कम नहीं होती. व्यापारियों द्वारा सैनिटाइजर का इस्तेमाल व सोशल डिस्टेंसिंग रखने का आश्वासन केवल आश्वासन ही रह गया है. दूकानों के सामने लोगों की भीड़ दिखाई दे रही है. कोई सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करता नजर नहीं आ रहा है. कई महाविद्यालयीन युवक-युवतियां दुपहिया लेकर सड़कों पर बेवजह घूमते हुए नजर आ रहे हैं.

    आटो-बस में अधिक यात्रियों कर रहे सफर

    जिला प्रशासन ने आटो चालकों व बस में सफर करने के लिए विशेष नियम बनाए थे. किंतु इन सभी नियमों की ओर अनदेखा करते हुए वाहनों में ठूस-ठूस कर यात्रियों को प्रवेश दिया जा रहा है. यह वाहन चालक पुलिस के सामने से गुजरने के बावजूद यातायात तथा अन्य पुलिस कर्मचारी किसी भी प्रकार की कार्रवाई करता नजर नहीं आ रहा.

    कुछ आटो चालकों को बिना मास्क के सवारी लेकर जाते हुए देखा जा रहा है. शहर के बंगाली कैम्प व पुरानी श्री टाकीज के पास सुबह के समय यहां दिहाड़ी मजदूरों की भीड़ नजर आती है. यहां मौजूद सभी मजदूर बिना मास्क के नजर आ रहे हैं. कई किराना व मेडिकल दूकानों में लोगों की भीड़ जुटती दिखाई दे रही है. इस संदर्भ में दूकानदारों का विशेष ध्यान देने. सैनिटाइजर की व्यवस्था करने की आवश्यकता है, परंतु इस तरह की किसी भी प्रकार की सावधानियां नहीं बरती जा रही हैं.