युवक कांग्रेस ने किया हाथरस गैंगरेप का निषेध

  • शहर में निकला कैंडल मार्च

बल्लारपुर. बल्लारपुर विधानसभा युवक कांग्रेस व बल्लारपुर की ओर से नगर परिषद बल्लारपुर मे कैंडल मार्च और श्रद्धांजलि अर्पित की निषेध किया गया। उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले की घटना ने हर किसी को हैरत में डाल दिया है। देश की बेटियों पर फिर से वही दरिंदो का साया फिर से मंडराया है।

14 सितंबर 2020 को अपने खेतों में सुबह-सुबह जानवरों को चारा खिलाने जा रही 19 वर्षीय लडकी को चारों दरिंदों ने अपने हवस का शिकार बनाया और दरिंदगी की हद पार करते हुए उसकी जीभ, गले की हड्डी, हाथ और पैर को भी तोड़ दिया। और आखिरकार पीड़िता जिंदगी की लड़ाई में हार गई और अब वह हमारे बीच नहीं है।

अपराधिक घटना सुनने में ही बेहद भयानक लगती है, लेकिन हैरान करने वाली बात तो यह है कि अभी तक इस पूरे मामले पर कोई सख्त कानूनी कार्रवाई नहीं की गई है। देश की जनता चारों अपराधियों की फांसी की मांग कर रही है, इस पूरी घटना को लेकर सभी आक्रोश में है,ओर इंसाफ की मांग की जा रही है।

इसी मांग को लेकर युवाओं कैंडल मार्च व भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की। युवक कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष चेतन गेडाम उपाध्यक्ष सिकंदर खान, शहर उपाध्यक्ष सोहेल खान शहर सचिव राहुल नानकटे, एनएसयूआई जिला सचिव सदिप नक्षिणे,शहर सचिव विशाल बोकडे, अविनाश पोहणकर, सचिन गौरकर, राजा केशकर, प्रेम तारला, शैलेश लाजेवार, रोशन ढेगडे, श्रीकांत गुजरकर,सलिम भाई,समिर खान, जुनैद सिददीकी, और कार्यकर्ता मौजूद थे।